शिक्षाकर्मियों ने पंचायत संचालक से मिलकर इन कमियों को दूर करने रखी मांग

संविलियन के लिए आठ साल की अनिवार्यता खत्म करने की मांग

शिक्षाकर्मियों ने पंचायत संचालक से मिलकर इन कमियों को दूर करने रखी मांग

रायपुर

राज्य सरकार ने प्रदेश के लाखों शिक्षाकर्मियों को संविलियन का तोहफा दे दिया है उसके बावजूद अब तक कई खामियों को पूरा नहीं किया जा सका है. ऐसे में अब शिक्षाकर्मी संघ अधिकारीयों से मिलकर उन खामियों को दूर करने की मांग कर रहे हैं.

इसी कड़ी में शालेय शिक्षाकर्मी संघ के प्रतिनिधिमंडल ने प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र दुबे के नेतृत्व में पंचायत संचालनालय के संचालक तारन प्रकाश सिन्हा से मुलाकात की और शिक्षाकर्मियों की विभिन्न समस्याओं पर चर्चा कर निराकरण करने की मांग की है.

संघ के पदाधिकारियों ने बताया कि संघ के प्रदेश अध्यक्ष और शिक्षक मोर्चा के प्रदेश संचालक वीरेंद्र दुबे ने शिक्षाकर्मी वर्ग 3 की वेतन विसंगति, क्रमोन्नति, अनुकंपा नियुक्ति और संविलियन के लिए आठ वर्ष का बंधन समाप्त करने के मुद्दे को पंचायत संचालक के समक्ष मजबूती से रखा है.

दुबे ने शिक्षाकर्मी वर्ग 3 की नाराजगी व उनकी जायज मांग से संचालक को अवगत कराया है. वहीं संचालक ने कहा कि यह शासन स्तर का मामला है. शासन ही इस पर निर्णय लेगी. उन्होंने सकारात्मक चर्चा का भरोसा दिलाया है. उन्होंने कहा कि संघ ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में जिला पंचायत की लापरवाही के चलते संविलियन से वंचित शिक्षाकर्मियों के पक्ष को मजबूती से रखते हुए निराकरण करने की मांग की है.

advt
Back to top button