झाड़ू से जुड़े शगुन और अपशगुन जो डालेगा आपके जीवन पर प्रभाव

झाड़ू पर पैर लगने से मां लक्ष्मी का अनादर होता है

कहा जाता है कि झाड़ू में लक्ष्मी का वास होता है। अगर आप झाड़ू का अपमान करते हैं तो आपके घर में धन की हानी होती है।

विद्वानों ने कहा है कि झाड़ू पर पैर लगने से मां लक्ष्मी का अनादर होता है, अगर ऐसा हो जाए तो तुरंत मां लक्ष्मी से क्षमा-प्रार्थना कर लेनी चाहिए।

इसलिए इससे जुड़े शगुन और अपशगुन हमारे जीवन में काफी प्रभाव डालते हैं। झाड़ू से संबंधित कई बातों का उल्लेख वास्तु में भी किया गया है। आइए जानते हैं, झाड़ू से संबंधित शगुन और अपशगुन के बारे में…

मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए मुख्य दरवाजे के पीछे एक छोटी-सी झाड़ू लटकानी चाहिए। ऐसे करने से आपके घर में कभी धन की कमी नहीं रहेगी।

साथ ही गाय या फिर किसी अन्य जानवर को कभी भी झाड़ू से नहीं मारना चाहिए। यह अशुभ माना जाता है, इससे माता लक्ष्मी रुष्ट भी हो जाती हैं।

झाड़ू को हमेशा साफ रखें और उसे गीला ना छोड़ें अथवा पुरानी हो चुकी झाड़ू को कभी भी घर के बाहर बिखराकर ना फेंके और ना ही इसको जलाएं।

इससे घर का वास्तु खराब हो जाता है, घर की सुख-शांति चली जाती है और नकारात्मक ऊर्जाओं का वास हो जाता है। पुरानी हो चुकी झाड़ू को किसी एकांत जगह पर या जमीन के नीचे दबा देना चाहिए।

झाड़ू और कूड़ेदान को कभी भी ईशान कोण यानी की उत्तर-पूर्वी कोने में ना रखें। ऐसा करने से घर में नकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। साथ ही घर में बरकत नहीं हो पाती है।

अगर घर-परिवार के लोग शुभ कार्य से बाहर जा रहे हों तो उनके जाने के बाद झाड़ू नहीं लगानी चाहिए। मान्यतानुसार, ऐसा करने से बाहर गए व्यक्ति को असफलता देखनी पड़ती है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार, जहां अनाज और खाने का सामान रखा हो, वहां कभी झाड़ू नहीं रखनी चाहिए। कहा जाता है ऐसा करने से परिवार में हानि होने लगती है।

वहीं शनिवार के दिन नई झाड़ू का प्रयोग करना शुभ माना जता है। इस दिन ही पुरानी झाड़ू को बदलना चाहिए।

Back to top button