27 साल बाद मिस्र ने फीफा विश्व कप 2018 के लिए किया क्वालीफाई

एलेक्जेंड्रिया (मिस्र): मिस्र ने एलेक्जेंड्रिया के एक स्टेडियम में खेले गए मैच में कोनगोलेसे को मात देकर अगले साल रूस में आयोजित होने वाले विश्व कप टूनार्मेंट में प्रवेश हासिल कर लिया है. समाचाक एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, मिस्र ने रविवार (8 अक्टूबर) रात को खेले गए विश्व कप क्वालीफायर मैच में कोनगोलेस को 2-1 से मात दी. मिस्र की इस जीत पर अल-अरब स्टेडियम के बाहर हजारों लोगों को जश्न मनाते देखा गया. करीब 27 साल बाद मिस्र ने विश्व कप में स्थान हासिल किया है और इस बात से खुश लोगों ने अपनी कारों के होर्न बजाकर झंडे लहराकर जश्न मनाया.

मिस्र ने इससे पहले 1990 और 1934 में विश्व कप में क्वालीफाई किया था. इस बार क्वालीफाई कर वह ग्रुप-ई में युगांडा, घाना और कोनगो के साथ शामिल हो गया है. स्टेडियम के बाहर मौजूद एक मेकेनिकल इंजीनियरिंग के छात्र अबदुल्लाह अल-मिसेरी ने कहा, “मैं इस जीत से बहुत खुश हूं. पिछली बार जब मिस्र विश्व कप में शामिल हुई थी, तो मैं दो साल का था. मुझे इस मैच में टीम को जीत मिलने की उम्मीद थी और इस जीत के बाद अब हमारा देश फुटबॉल जगत के सबसे बड़े टूनार्मेंट मे हिस्सा लेगा.” संसद में कैबिनेट में शामिल सदस्यों ने इस जीत पर सीसी, मिस्र के लोगों और राष्ट्रीय टीम को बधाई दी.

इससे पहले स्पेन ने अल्बानिया को 3-0 से हराकर 2018 फीफा विश्व में अपना स्थान सुनिश्चित कर लिया था. समाचार एजेंसी एफे के अनुसार, स्पेन, बेल्जियम, इंग्लैंड, जर्मनी और मेजबान रूस की टीमें पहले ही इस विश्व कप के लिए क्वॉलीफाइ कर चुकी है और अभी नौ यूरोपीय टीमें 2018 में हाने वाले विश्व कप के लिए क्वालीफाइ कर सकती है.

स्पेन ने मैच के पहले हाफ में ही मेहमान टीम के खिलाफ तीन गोल दागे. स्पेन की तरफ से मोरेनो, इस्को और अलकांत्रा ने गोल किए. यह जीत भी ग्रुप जी में स्पेन का प्रथम स्थान सुनिश्चित नहीं कर पाती अगर एक अन्य मैच में इटली ने मैसेडोनिया को हरा दिया होता. इटली के चिलेनी ने मैच के 40वें मिनट में गोल कर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी, लेकिन अंतिम 15 मिनट में मैसेडोनिया ने गाल मारकर मैच को ड्रॉ पर समाप्त किया. इस ड्रॉ के बाद इटली 20 अंकों के साथ ग्रुप-जी दूसरे पायदान पर रहा.

1
Back to top button