मिस्र: पूर्व राष्ट्रपति मुर्सी के 65 समर्थकों को हुई जेल

मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के 65 समर्थकों को अदालत ने शनिवार (17,फरवरी) को सरकार विरोधी दंगों, प्रदर्शनों और हिंसा को बढ़ावा देने के लिए 10 साल कैद की सजा सुनाई है

मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के 65 समर्थकों को अदालत ने शनिवार (17,फरवरी) को सरकार विरोधी दंगों, प्रदर्शनों और हिंसा को बढ़ावा देने के लिए 10 साल कैद की सजा सुनाई है. प्राप्त जानकारी के अनुसार जागजिग आपराधिक अदालत ने सभी मामलो में 44 अभियुक्तों को 10 साल जेल और 21 को दो साल जेल की सजा सुनाई है. वहीं, सरकार विरोधी दंगों, प्रदर्शनों और हिंसा को बढ़ावा देने के इस मामले में आठ लोगों को रिहा भी किया है.

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

सभी अभियुक्त मुस्लिम ब्रदरहुड धड़े के सदस्य और समर्थक
सजा पाने वाले दोषियों में अधिकतर पूर्व राष्ट्रपति मुर्सी की मुस्लिम ब्रदरहुड धड़े के सदस्य और समर्थक हैं. देश में मुस्लिम ब्रदरहुड धड़े को आतंकवादी संगठन मानकर प्रतिबंधित किया जा चुका है. बता दें कि देश में मुर्सी के शासन के विरोध में प्रदर्शन के बाद जुलाई 2013 में तख्तापलट हो गया था.

पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी भी भुगत रहे हैं सजा
गौरतलब है कि मोहम्मद मुर्सी इस समय 20 साल कारावास की सजा भुगत रहे हैं. यह सजा उनको 2012 में उनके समर्थकों और विरोधियों के बीच रंक्तरंजित संघर्ष को भड़काने का दोषी ठहराते हुए दी गई है. इसके अलावा उनको गोपनीय दस्तावेज लीक करने के आरोप में 25 साल कारावास की सजा दी गई है.

Back to top button