छत्तीसगढ़

एकलव्य में आधारिक सुविधाएँ होंगी बेहतर, पंचायत शिक्षक होंगे अटैच

एकलव्य में आधारिक सुविधाएँ होंगी बेहतर, पंचायत शिक्षक होंगे अटैच

एकलव्य में आधारिक सुविधाएँ होंगी बेहतर, पंचायत शिक्षक होंगे अटैच

कलेक्टर श्री भीम सिंह ने किया निरीक्षण, कहा एकलव्य आवासीय विद्यालय के छात्रों में बड़ी संभावनाएँ, अपग्रेड करने करेंगे हर संभव मदद

राजनांदगांव: राजनांदगांव। कलेक्टर श्री भीम सिंह ने आज एकलव्य आवासीय विद्यालय का निरीक्षण किया। यहाँ उन्होंने बुनियादी सुविधाओं और शैक्षणिक स्तर दोनों के बारे में जानकारी ली। शिक्षकों और छात्र-छात्राओं से चर्चा के पश्चात उन्होंने कहा कि एकलव्य आवासीय विद्यालय में बड़ी संभावनाएँ हैं लेकिन बच्चों की प्रतिभा पूरी तरह उभारने के लिए यहाँ का प्रबंधन अपना शत प्रतिशत नहीं दे पा रहा। बच्चों से बातचीत करने पर बच्चों ने कलेक्टर से बताया कि यहाँ टीचर तो रेग्युलर आते हैं पढ़ाई भी अच्छी कराते हैं लेकिन कंप्यूटर लैब और साइंस लैब जैसी बुनियादी सुविधाओं में कमी के चलते शैक्षणिक स्तर प्रभावित होता है।

विद्यार्थियों ने बताया कि कंप्यूटर लैब तो अच्छा है लेकिन यहाँ क्लासेस नियमित नहीं होती। इंटरनेट की सुविधा नहीं है जिसके कारण टीचर केवल एक्सेल और एमएस वर्ड आदि ही समझा देते हैं। साइंस लैब में उपकरणों की कमी है जिसके कारण प्रायोगिक कार्य कुछ हद तक प्रभावित हो रहा है। कलेक्टर ने छात्रावास अधीक्षक को निर्देश दिया कि कंप्यूटर लैब में नियमित क्लास होए इंटरनेट की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाए।

साइंस लैब के उपकरण जो फिलहाल उपलब्ध नहीं है उन्हें एक सप्ताह में उपलब्ध करा दिया जाए। साथ ही कलेक्टर ने कहा कि यहाँ का खेल मैदान काफी बड़ा है। बच्चे बास्केट बाल, फूटबाल जैसे खेल खेल सकते हैं साथ ही इंडोर गेम्स भी खेल सकते हैं। इसकी सुविधा उपलब्ध कराएँ।

उन्होंने मैदान के समतलीकरण के निर्देश भी दिए। कलेक्टर ने अंग्रेजी के पाठ में ग्लासरी से दस शब्दों का चयन कर बच्चों से स्पेलिंग पूछी। उन्होंने स्पेलिंग जाँची और अंग्रेजी के शिक्षक को बच्चों के लिए स्पीकिंग इंग्लिश की क्लास लगाने एवं सामान्य शब्दकोष मजबूत करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने यहाँ अतिरिक्त शिक्षक अटैच करने के निर्देश दिए। इस मौके पर सहायक आयुक्त श्री तारकेश्वर देवांगन भी उपस्थित थे।

पानी की दिक्कत बताई छात्र-छात्राओं ने –

छात्र-छात्राओं ने बताया कि यहाँ पानी की खासी दिक्कत है। दो ही बोर हैं जब बिजली चली जाती है तो पानी की दिक्कत होती है। इस पर प्रबंधन ने बताया कि एकलव्य का भवन किराये के भवन में संचालित है। संस्था को इसके लिए कहा गया है कि पानी की समस्या के साथ ही माइनर रिपेयर की समस्या भी है। कलेक्टर ने कहा कि संस्था के पदाधिकारियों के साथ भवन संबंधी सभी विषयों पर चर्चा करेंगे। फिलहाल बच्चों को दिक्कत न हो, इसके लिए पानी की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित कराने के निर्देश उन्होंने दिए। साथ ही माइनर रिपेयर एक हफ्ते के भीतर कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि कुछ दिनों बाद वे पुन: एकलव्य आएंगे और तब तक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश उन्होंने दिए।

Tags
Back to top button