60 पार कपल बना हीरो, झपटमारों को दबोचा

नई दिल्ली: करावल नगर इलाके में बुजुर्ग दंपती की बहादुरी से दो बदमाश जेल पहुंच गए। 63 साल के रवींद्र पाठक अपनी पत्नी भवानी के साथ मॉर्निंग वॉक पर निकले थे। दोनों लुटेरों ने कानों से कुंडल झपटकर वारदात के बाद मौके से फरार होने लगे।

बुजुर्ग दंपती हिम्मत दिखाते हुए उन लुटेरों से भिड़ गए। दोनों ने लुटेरों को काबू कर लिया। हालांकि, उनका तीसरा साथी भवानी के कुंडल लेकर फरार होने में कामयाब हो गया।

इस बीच लोग जमा हो गए। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों लुटेरे, लोनी निवासी जावेद और आरिफ को गिरफ्तार कर लिया। उनके फरार साथी की तलाश की जा रही है।

बुजुर्ग दंपती के साहस को देखते हुए डीसीपी डॉ. अजीत कुमार सिंगला ने दोनों को प्रशस्ति पत्र और एक-एक हजार रुपये कैश से सम्मानित किया।

डीसीपी के मुताबिक, वाकया शुक्रवार सुबह करीब साढ़े छह बजे का है। नेहरू विहार, करावल नगर निवासी रवींद्र पाठक अपनी पत्नी भवानी के साथ मॉर्निंग वॉक के लिए निकले थे।

रवींद्र डीडीए में काम करते थे। अब वह रिटायर हो चुके हैं। लखपति स्कूल के पास पहुंचने पर बाइक सवार कुछ बदमाशों ने भवानी के कानों से कुंडल झपट लिए।

रवींद्र और उनकी पत्नी शोर मचाते हुए आरोपियों के पीछे भागे। एक बदमाश को उन्होंने पकड़ लिया। दूसरे ने बाइक लेकर मौके से फरार होने की कोशिश की लेकिन एक ऑटो ड्राइवर ने अपना ऑटो रास्ते में लगा दिया। इस कारण वह भाग नहीं सका।

वारदात के ही दौरान आरोपी ने कुंडल अपने तीसरे साथी को दे दिए। इसे लेकर वह फरार होने में कामयाब हो गया। मामले की सूचना मिलते ही खजूरी खास थाना पुलिस मौके पर पहुंच गई। दोनों बदमाशों को थाने लाया गया। छानबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि दोनों लुटेरे करीब डेढ़ दर्जन से अधिक वारदात को अंजाम दे चुके हैं।

Back to top button