बुजुर्ग मां और मासूम बेटे की पट्टीदारों ने फावड़े से काटकर की हत्या

पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्‍पताल भेजा

गोरखपुर:छत से पानी गिरने और नाली के विवाद को लेकर पट्टीदारों ने बीजेपी किसान मोर्चा के जिला कार्यकारिणी के सदस्य परशुराम शुक्ला की बुजुर्ग मां और उनके मासूम बेटे की फावड़े से काटकर हत्या कर दी.

इस खूनी संघर्ष में उनकी पत्नी और बेटी घायल हो गईं. वारदात के बाद हत्यारोपी सीताराम शुक्ला मौके से फरार हो गया. घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए अस्‍पताल भेजा.

मामला हरपुर बुदहट थाना के तेनुआ गांव का है, जहां परशुराम शुक्ला की बुजुर्ग मां विमला देवी और उनके तीन साल के बेटे मार्कण्डेय की सगे पट्टीदार ने फावड़े से प्रहार कर हत्या दी. छत से पानी गिराने को लेकर हुए विवाद में डबल मर्डर की वारदात हुई. सूचना के बाद पुलिस अफसर भी गांव पहुंच गए. एहतियातन गांव में फोर्स तैनात कर दी गई है. साथ ही आरोपी की गिरफ्तारी की कोशिश की जा रही है.

छत से पानी गिरने को लेकर विवाद

गौरतलब है कि हरपुर बुदहट इलाके के तेनुवा गांव निवासी परशुराम शुक्ला का उनके पट्टीदार सीताराम शुक्ला से छत से पानी गिरने को लेकर विवाद चल रहा था. दरअसल, सीताराम की छत से परशुराम के दरवाजे पर पानी गिरता था, जिसका परशुराम विरोध करते थे.

आरोप है कि सीताराम ने अब परशुराम के दरवाजे पर पक्की नाली बनवानी शुरू कर दी थी. इसे लेकर उन्होंने पुलिस में शिकायत की थी, लेकिन राजस्व का मामला बातकर पुलिस ने पल्ला झाड़ लिया था. उसके बाद परशुराम शुक्ला ने आईजीआरएस में शिकायत डाली थी.

पुलिस वालों के लौटने के बाद हुई वारदात

बताया जा रहा है कि मंगलवार की शाम हरपुर बुदहट थाने से पुलिसकर्मी जांच के लिए उनके घर गए थे. घर पर परशुराम शुक्ला नहीं थे. वह किसी काम से पंजाब गए हुए हैं. पुलिसवालों ने मौके का मुआयना किए और पट्टीदार सीताराम शुक्ला के घर मौजूद लोगों से भी बात की फिर लौट आए.

आरोप है कि पुलिसवालों के लौटने के करीब दो घंटे बाद सीताराम और उनके घरवाले आक्रामक हो गए और आवेश में आकर डबल मर्डर की वारदात को अंजाम दे डाला.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button