राष्ट्रीय

किसान को बिजली विभाग ने थमाया 1.5 लाख का बिल, पीड़ित ने कर ली आत्महत्या

यह घटना अतरौली तहसील के सुनैरा गांव की है

नईदिल्ली। उत्तरप्रदेश के अलीगढ़ जिले में एक 50 वर्षीय किसान ने आत्महत्या कर ली, उसके आत्महत्या की वजह थी ​बिजली बिल। बिजली विभाग ने उन्हें 1.5 लाख रुपये का बिजली बिल थमा दिया था। जब किसान ने विद्युत विभाग के अधिकारियों से कहा कि उनके पास भुगतान करने के इतने पैसे नहीं है, तो कथित तौर पर उन्हें थप्पड़ मार दिया गया।

यह घटना अतरौली तहसील के सुनैरा गांव की है, यहां कुछ अधिकारी रामजी लाल के घर पर आकर उन्हें 1,50,000 लाख रुपये का बिजली बिल दे गए, पीड़ित ने जब यह कहा कि उनके पास इतने पैसे नहीं है तो बिजली विभाग के कर्मचारियों ने कथित तौर पर उनके परिवार के सदस्यों के सामने ही उन्हें थप्पड़ मार दिया। पीड़ित किसान रामजी लाल ने उन्हें बिल में सुधार करने की बात कही, लेकिन फिर भी कुछ नहीं हुआ।

किसान के परिवार ने पुलिस थाना बरला में शिकायत दर्ज कराई कि बिजली बिल में 1,500 रुपये की राशि को गलत ढंग से 1,50,000 रुपये दिखाया गया था, जब सारी कोशिशें नाकाम हो गई, तब थक हारकर उन्होंने फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली।

स्थानीय लोगों ने बिजली विभाग के कार्यालय के सामने शव रखकर घटना के विरोध में अपना प्रदर्शन किया और एसडीओ व जूनियर इंजीनियर के खिलाफ मामला दर्ज होने तक अंतिम संस्कार करने से भी इनकार कर दिया, जिन्होंने कथित रूप से पीड़ित के घर जाकर उनके साथ बदसलूकी की थी। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को आश्वासन दिया कि आवश्यक प्रक्रियाओं के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button