विद्युत विभाग पंडरिया में चल रहा खुल कर भ्रष्टाचार का खेल

हिमांशु सिंह ठाकुर

कवर्धा. छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी मर्यादित संभाग पंडरिया में सहायक अभियंता मनीष साहू हमेशा से ही रिश्वतखोरी के मामले में सुर्खियों में रहे है , पंडरिया विद्युत विभाग का यह पहला मामला नही बल्कि ऐसे लगभग कई मामले सहायक अभियंता मनीष साहू के काफी चर्चित है जी हाँ हम बात कर रहे है पंडरिया विद्युत विभाग की जहां भ्रष्टाचार का खेल जोर शोर से चल रहा है.

छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत वितरण कंपनी मर्यादित संभाग पंडरिया

परंतु आज विद्युत विभाग के सहायक अभियंता के सर पर सत्ता पार्टी का हाथ होने के कारण उन्हें आज पर्यन्त दिनांक तक पंडरिया से दूसरे जगह स्थानांतरण नही किया जा सका जिसका खामियाजा आज पंडरिया के समीपस्थ ग्राम समनापुर के भोले भाले किसानों को चुकाना पड़ रहा है , किसानों का आरोप है कि सहायक अभियंता मनीष साहू द्वारा विद्युत पोल लगवाने के लिए किसानों से 10000/- रुपये की मांग की जाती है.

बल्कि राशि नही दिए जाने पर कार्यालय से भगा दिया जाता है , सेंध राम पटेल, इन्द्र कुमार पटेल सहित अन्य किसानों ने बताया कि आज हमसे विद्युत पोल खंबे के लिए राशि जमा करवाने के बाद उनके द्वारा आज पिछले 4 वर्षों से घुमाया जा रहा है , आज तक जिला प्रशासन व विद्युत विभाग के उच्च अधिकारी द्वारा सहायक अभियंता मनीष साहू पर कार्यवाही नही किया जाना जिला प्रशासन व उच्च अधिकारी की संरक्षण को साफ दर्शता है, अब देखना ये होगा कि आखिरकार जिला प्रशासन व उच्च अधिकारी भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारी को कब तक बचाते है.

वही जब इस पूरे मामले की जानकारी के लिए हमारे संवददाता ने जानकारी लेनी चाही तो विद्युत विभाग के उच्च अधिकारी कार्यालय में नही थे जिसके बाद उनसे फोन पर संयोर्क करने की कोशिश की गई तो उनके नंबर पर उच्च अधिकारी का मोबाइल नंबर कवरेज से बाहर होने के कारण जानकारी नही दी गई।

विजुअल:-

01. विद्युत विभाग पंडरिया कार्यलय के बोर्ड वीडियो।

02. विद्युत विभाग पंडरिया कार्यलय ।

03. पीड़ित किसानों का वीडियो।

बाइट:-

01. पीड़ित किसान, सोमनापुर पंडरिया ।

02. पीड़ित किसान , सोमनापुर पंडरिया।

03. पीड़ित किसान, सोमनापुर पंडरिया ।

04. पीड़ित किसान , सोमनापुर पंडरिया ।

Back to top button