राष्ट्रीय

एलफिंस्टन हादसा: रेहड़ीवाले ने कहा- ‘फूल गिरा’, लोगों ने कहा ‘पुल गिरा’

मुंबई के एलफिंस्टन रोड स्टेशन पर हुए हादसे में 23 लोगों की मौत मामले में पता चल गया है कि आखिर भगदड़ क्यों मची. रेलवे की ओर से एलफिंस्टन रोड स्टेशन पर भगदड़ की जांच करने के बीच, इस घटना में बाल बाल बची एक छात्रा ने जांच समिति के सामने आशंका जताई कि फूल बेचने वाले एक व्यक्ति ने चिल्लाकर बोला था ‘फूल गिर गया’, लेकिन हो सकता है कि इसे लोगों ने गलती से ‘पुल गिर गया’ समझा और इससे भगदड़ मच गई. हालांकि एक वरिष्ठ रेलवे अधिकारी ने कहा कि उन्हें यह पता करना है कि यह हादसे का एकमात्र कारण है या इसके और भी कारण हैं.

बीते 29 सितंबर को सुबह के भीड़भाड़ वाले समय में स्टेशन पर संकरे फुटओवर ब्रिज की सीढियों पर भगदड़ मच गई जिसमें 23 लोगों की मौत हो गई और 30 से अधिक घायल हो गये. पश्चिम रेलवे ने कल इसके कारणों की जांच शुरू की थी. जिस ओवरब्रिज पर भगदड़ मची उसी पर रेहड़ीवाले फूल और अन्य सामान भी बेच रहे थे.

पश्चिमी रेलवे के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज कहा कि भगदड़ में घायल एक छात्रा ने जांच समिति को कल बताया कि फूल बेचने वाले ने बोला ‘फूल गिर गया’ जिसे लोगों ने गलती से ‘‘पुल गिर गया’ समझ लिया.

पश्चिम रेलवे के मुख्य प्रवक्ता रवींद्र भाकर ने कहा कि उन्होंने जांच समिति को बताया कि इससे सीढियों पर मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई और वे एक दूसरे को कुचलते हुए दौड़ने लगे.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *