कर्मचारियों ने एयर इंडिया प्रंबधन को पत्र लिखकर जताई नाराजगी

वित्तीय अनिश्चितता की वजह से कर्मचारियों में हताशा, चिंता और तनाव

नई दिल्लीः एयर इंडिया के कर्मचारियों ने पत्र लिखकर प्रबंधन के खिलाफ नाराजगी जताई है। इसके साथ उन्होंने में पत्र लिखकर पुछा है कि क्या एयरलाइन के पास नियमित रखरखाव (मेंटेनेंस) के लिए पर्याप्त फंड मौजूद है या नहीं।

उनका कहना है कि वित्तीय अनिश्चितता की वजह से कर्मचारियों में हताशा, चिंता और तनाव बना हुआ है। एयर इंडिया के पायलटों की नाराजगी निजी एयरलाइन जेट एयरवेज के वित्तीय नतीजे टालने के दूसरे दिन सामने आई।

वित्तीय घाटे के दौर से गुजर रहे दो नामचीन एयरलाइं

जेट ने कहा कि ऑडिट कमेटी ने वित्तीय नतीजे अप्रूव करने की सिफारिश नहीं की। यह दोनों एयरलाइंस वित्तीय घाटे के दौर से गुजर रही हैं। ऐसे में स्टाफ के मन में कई तरह की शंकाएं हैं।

विदेशी उड़ानों में पिछले साल एयर इंडिया और जेट एयरवेज की हिस्सेदारी 30.5% रही। 2017 में कुल 5.9 करोड़ इंटरनेशनल उडानों में से 1.8 करोड़ इन दोनों ने भरीं। घरेलू बाजार में दोनों का मार्केट शेयर 28% है।

Tags
Back to top button