कृषि संकाय में विद्यार्थियों के लिए रोजगार के अवसर

कृषि विज्ञान केन्द्र सुरगी में विद्यार्थियों का इन्टर्नशिप

राजनांदगांव। शिक्षा में कौशल को जोडऩे और माध्यमिक शिक्षा में व्यवसायिक शिक्षा पर नये सिरे से ध्यान केन्द्रित करने पर अधिक बल दिया गया है शिक्षा की दूरदर्शिता एवं व्यापक संभावना को ध्यान रखकर माध्यमिक स्तर पर अच्छी गुणवत्ता युक्त शिक्षा प्रत्येक बच्चे को उपलब्ध हो और उनकी पहुंच में हो ।

इसी तारतम्य में शासकीय लक्ष्मी निवास बद्रुका हायर सेकेन्डरी स्कूल रीवांगहन के नवीन व्यवसायिक पाठ्यक्रम अन्तर्गत कृषि संकाय के विद्यार्थियों को 10 दिवसीय इन्टर्नशिप कार्यक्रम क ृषि विज्ञान केन्द्र सुरगी में प्रशिक्षण दिया जा रहा है । कार्यक्रम का उद्देश्य कृषि संकाय के विद्यार्थियों को स्वरोजगार के माध्यम से आजीविका के साधन उपलब्ध कराना है उक्त कार्यक्रम को कृषि विज्ञान केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. बी.एस. राजपूत एवं शाला प्राचार्य श्रीमती सुनिता खरे के मार्ग दर्शन में संचालित किया जा रहा है ।

शाला के व्यवसायिक प्रशिक्षक उपासना शर्मा ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि यह कार्यक्रम विद्यार्थियों को सैद्धांतिक जानकारी के साथ-साथ प्रायोगिक कार्य सिखने का सुनहरा अवसर प्रदान करता है। साथ ही इस विषय के माध्यम से बच्चे ज्ञान के साथ-साथ अपने जीवन निर्वाह के लिए स्वयं रोजगार सृजन कर सकते हैं।

इस कार्यक्रम के तहत बच्चों को केंचुआ खाद बनाना, अजोला का महत्व पशुओं के विभिन्न नश्लों से आमदनी, विभिन्न आधुनिक कृषि यंत्र, कुक्कुट पालन, मतस्य पालन, बतख पालन, एवं वेस्ट डीकम्पोजर व मशरूम की बीज तैयार करने की जानकारी दी जा रही है। इस कार्यक्रम के दौरान विद्यार्थियों में काफी उत्साह देखा जा रहा है इस कार्यक्रम में खुमान दास साहू, ज्योति साहू, मिलेश देवांगन, अंजलि साहू, मनेश्वर साहू, हेमदास साहू, चांदनी नेताम, प्रदीप साहू, दीपचंद यादव, चेतन मंडावी, आदि छात्र-छात्राओं की भूमिका सराहनीय रही ।

Back to top button