छत्तीसगढ़

समाज के अंतिम छोर में खड़े व्यक्ति को सशक्त बनाना ही गांधी जी के प्रति सच्ची श्रद्धा है

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती में उनके योगदान को याद करते हुए जय जवान जय किसान के संदर्भ में भी सभी को बताया गया

हिमांशु सिंह ठाकुर :-ब्यूरो रिपोर्ट कवर्धा।

कवर्धा : राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के 151 जन्मदिवस पर जिला पंचायत कबीरधाम के सभाकक्ष में राष्ट्रपिता को माल्यार्पण कर याद करते हुए उनके विचारों से सभी को अवगत कराया गया। गांधी जयंती के उपलक्ष्य में जिला पंचायत कबीरधाम के जनप्रतिनिधि गण एवं जिला पंचायत के सभी अधिकारियों तथा कर्मचारियों ने कार्यक्रम में राष्ट्रपिता एवं पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को नमन किया अपने उद्बोधन में जिला पंचायत सदस्य रामकृष्ण साहू ने ग्रामीण भारत को सशक्त बनाते हुए शासन की योजना से सभी को लाभ पहुंचाते हुए

गांधी जी के जीवन से शिक्षा मिलने की बात कही गई जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजय दयाराम के. ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ग्रामीण भारत का विकास गांधी जी के परिकल्पना में रहा है पंचायत विभाग का पूरा परिवार मिलकर शासन की योजनाओं से समाज के अंतिम छोर में खड़े व्यक्ति को सशक्त बनाना ही गांधीजी के विचारों को साथ लेकर चलना है। छत्तीसगढ़ शासन की महत्वकांक्षी सुराजी गांव योजना के तहत कराए जा रहे हैं

बिहान योजना

नरवा गरवा घुरवा और बाड़ी विकास से ग्रामीणों को आत्मनिर्भर बनाना ग्राम सुराज की परिकल्पना है विजय दयाराम के. ने आगे कहा की ग्रामीण क्षेत्रों में आजीविका संवर्धन से ग्रामीण आत्मनिर्भर होंगे इसी तरह गांधी जी के विचारों के अनुसार स्वच्छता को प्राथमिकता देते हुए स्वच्छ भारत अभियान के तहत बहुत से प्रयास किए गए और साथ ही लोगों को जागरूक करने का कार्य निरंतर चल रहा है महिला सशक्तिकरण पर चर्चा करते हुए बिहान योजना के द्वारा किये जा रहे कार्यों के साथ ग्रामीण भारत पर गांधी जी के विचारों से सभी को परिचित कराया गया

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयन्ती में उनके योगदान को याद करते हुए जय जवान जय किसान के संदर्भ में भी सभी को बताया गया आज के इस कार्यक्रम में जिला पंचायत के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित रहे तथा इस दौरान गांधी दर्शन के साथ रघुपति राजा राम के भजन के द्वारा राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को नमन किया गया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button