अधिकारिता मंत्री रामदास आठवले ने जताई चुनाव लड़ने की इच्छा

प्रदेश के विभिन्न स्थानों से आए पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक की

लखनऊ: आगामी लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर उत्तर प्रदेश की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ने की आस में रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (आरपीआई) के अध्यक्ष और केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री रामदास आठवले ने बुधवार को प्रदेश के विभिन्न स्थानों से आए पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक की.

उन्होंने दावा किया कि सपा-बसपा के गठबंधन के बावजूद अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के मतदाता प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हैं. उत्तर प्रदेश के लोग जानते हैं कि सपा-बसपा कभी घोर प्रतिद्वंदी हुआ करते थे और अब मोदी को हराने के लिए वे एकजुट हो गए हैं. सभी लोग इस गठबंधन से खुश नहीं हैं.

आठवले ने कहा कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में तीन सीटों पर लोकसभा चुनाव लड़ना चाहती है. इस बारे में उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी कहा है. अगर भाजपा उनकी पार्टी को एक भी सीट नहीं देती है तो वह कुछ सीटों पर निर्दलीय की हैसियत से चुनाव लड़ेंगे. बाकी सीटों पर वह भाजपा का सहयोग करेंगे.

बता दें कि रामदास आठवले ने राम मंदिर पर बोलते हुए कहा था कि उनकी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया (ए) न तो राम मंदिर का समर्थन करती है और न ही इसका विरोध करती है. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी इस बात को पसंद करेगी अगर राम मंदिर स्थल पर शैक्षणिक संस्थान का निर्माण होता है.

Back to top button