खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करना हमारी सरकार की प्राथमिकताः उमेश पटेल

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में सरकार खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।


·महिला, पुरुष एवं अलग-अलग आयु वर्ग के लिए 50 मीटर, 10 मीटर और 25 मीटर रायफल पिस्टल प्रतियोगिताएं 6 मार्च तक होंगी आयोजित

·विजेताओं का चयन बंगाल में 11-14 मार्च तक होने वाली ईस्ट जोन निशानेबाजी चैंपियनशिप के लिए होगा

·ईस्ट जोन के विजयी प्रतियोगी अप्रैल में होने वाली राष्ट्रीय निशानेबाजी चैंपियनशिप में भाग लेंगे

·छत्तीसगढ़ राज्य रायफल एसोसिशन और जेएसपीएल संयुक्त रूप से 2002 से आयोजित कर रहे राज्यस्तरीय निशानेबाजी चैंपियनशिप

रायपुर, 27 फरवरी 2021 – उच्च शिक्षा, खेल एवं युवा विकास मंत्री उमेश नंदकुमार पटेल ने आज कहा कि प्रदेश के खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करना उनकी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को विश्व स्तरीय सुविधाएं उपलब्ध कराने के प्रयास किये जा रहे हैं ताकि वे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर छत्तीसगढ़ का नाम रोशन कर सकें।

पटेल आज छत्तीसगढ़ सशस्त्र सुरक्षा बल चौथी बटालियन के माना स्थित शूटिंग रेंज में छत्तीसगढ़ राज्य रायफल एसोसिएशन और जाने-माने उद्योगपति श्री नवीन जिन्दल के नेतृत्व वाली कंपनी जिन्दल स्टील एंड पावर लिमिटेड (जेएसपीएल) के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित 19वीं राज्यस्तरीय निशानेबाजी प्रतियोगिता का उद्घाटन करने के बाद अपने विचार प्रकट कर रहे थे। उन्होंने कहा कि खेल अकादमी रायपुर का संचालन किया जा रहा है, जहां अब छात्रावास की सुविधा भी उपलब्ध कराने पर विचार किया जा रहा है। ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभाओं के लिए प्रत्येक ग्राम पंचायत में तीन-तीन ग्रामीण क्षेत्र अभ्यास योजना शुरू की गई है।

पटेल ने कहा कि शहीद वीर नारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, परसदा-नया रायपुर विश्वस्तरीय सुविधा का उत्कृष्ठ उदाहरण है। यह क्रिकेट स्टेडियम भारत का दूसरा सबसे बड़ा स्टेडियम है, जिसकी दर्शक क्षमता 60 हजार है। इस स्टेडियम में आईपीएल समेत कई राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं आयोजित की जा चुकी हैं। इसी तरह अंतरराष्ट्रीय हॉकी स्टेडियम का निर्माण राजनांदगांव एवं रायपुर में किया गया है। बिलासपुर में राज्य का बृहद खेल प्रशिक्षण केंद्र निर्माणाधीन है। यहां आउटडोर, इनडोर स्टेडियम के साथ-साथ एथलेटिक ट्रैक, हॉकी के लिए एस्ट्रो टर्फ आदि का निर्माण किया जा रहा है। इसके अलावा प्रतिभाशाली खिलाड़ियों के लिए वजीफे आदि की भी व्यवस्था की गई है।

उन्होंने कहा कि खेलो इंडिया योजना के तहत अंबिकापुर में 4.5 करोड़ रुपये की लागत से बहु उद्देश्यीय इनडोर हॉल और महासमुंद में 6.6 करोड़ रुपये की लागत से कृत्रिम एथलेटिक ट्रैक का निर्माण किया जा रहा है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में सरकार खिलाड़ियों को अंतरराष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।

छत्तीसगढ़ प्रदेश रायफल एसोसिएशन एवं श्री नवीन जिन्दल के नेतृत्व वाली कंपनी जिन्दल स्टील एंड पावर लिमिटेड (जेएसपीएल) के संयुक्त तत्वावधान में राज्य स्तरीय 19वीं निशानेबाजी प्रतियोगिता 6 मार्च तक चलेगी, जिसमें महिला, पुरुष एवं अलग-अलग आयु वर्ग के लिए 50 मीटर, 10 मीटर और 25 मीटर रायफल पिस्टल प्रतियोगिताएं आयोजित की जाएंगी। भारतीय राष्ट्रीय रायफल संघ द्वारा निर्धारित मानदंडों के अनुरूप जो प्रतियोगी वांछित अंक हासिल करेंगे, उनका चयन 11 से 14 मार्च तक पश्चिम बंगाल में आयोजित होने वाली ईस्ट जोन शूटिंग चैंपियनशिप के लिए होगा। ईस्ट जोन शूटिंग चैंपियनशिप क्वालिफाई करने वाले निशानेबाजों का चयन राष्ट्रीय निशानेबाजी प्रतियोगिता के लिए होगा, जिसका आयोजन अप्रैल माह में होगा। यह प्रतियोगिता वर्ष 2002 से आयोजित की जा रही है और छत्तीसगढ़ की अनेक प्रतिभाओं को इस प्रतियोगिता के माध्यम से आगे बढ़ने का अवसर मिला है।

इस अवसर पर जेएसपीएल के प्रेसिडेंट श्री प्रदीप टंडन ने कहा कि उनकी कंपनी निशानेबाजी प्रतियोगिता के माध्यम से छत्तीसगढ़ के युवाओं के विकास के लिए प्रयासरत है। इस अवसर पर जेएसपीएल के प्लांट हेड श्री अरविंद तगई, रायफल एसोसिएशन के महासचिव श्री राकेश गुप्ता, रविंदर शर्मा, सूर्योदय दुबे आदि की उल्लेखनीय उपस्थिति रही।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button