राज्य

इंटरव्यू के बाद अंग्रेजी में MA शख्स ने किया सूइसाइड

सोनारपुर. अंग्रेजी में एमए और हाथ में बीएड की डिग्री थी, लेकिन एक इंटरव्यू के बाद उस शख्स ने मंगलवार को खुदकुशी कर ली। खासा पढ़ा-लिखा होने के बावजूद उसे सफाईकर्मी के जॉब के लिए इंटरव्यू की लंबी कतार में खड़ा होना पड़ा।

30 साल के अतानु मिस्त्री को डिग्रियां हासिल करने के दो साल बाद अब तक कोई जॉब नहीं मिला था। मंगलवार को वह दम दम स्थित एक प्राइवेट कंपनी में इंटरव्यू के लिए गया था और वह नौकरी सफाईकर्मी की निकली। खुदकुशी से पहले अपनी मां उषा से उसने जो अंतिम शब्द कहे, वे थे- ‘मां, ये डिग्रियां होने के बावजूद क्या मुझे सफाईकर्मी की नौकरी करनी पड़ेगी?

उषा ने बताया, विज्ञापन में दिया गया जॉब प्रोफाइल स्पष्ट नहीं था, इसके बावजूद अतानु ने इंटरव्यू दिया। उन्होंने कहा, ‘इंटरव्यू के बाद मेरा बेटा ऑफिस से बाहर निकला, वह यह नहीं जानना चाहता था कि उसका सिलेक्शन हुआ या नहीं। जब वह घर पहुंचा तो उसने मुझसे ऐसा सवाल किया, जिसका मेरे पास कोई जवाब नहीं था।

अपनी मां से बात करने के बाद अतानु अपने कमरे में गया। शाम करीब 7:30 बजे अतानु ने माता-पिता को कुछ गड़बड़ लगी। अतानु के कमरे का दरवाजा अंदर से बंद था, पड़ोसियों को बुलाया गया और खिड़की से देखने पर दिखा कि अतानु पंखे से लटका हुआ है।

अतानु के पिता चंद्र कांत ने बताया कि प्राइमरी टीचर के जॉब के लिए इंटरव्यू में रिजेक्ट होने के बाद से वह बहुत दुखी रहता था। पड़ोस के कई युवक प्राइमरी टीचर बन गए थे, लेकिन उसका सिलेक्शन नहीं होने की वजह से बहुत परेशान रहता था। हाई कोर्ट में क्लर्क की नौकरी करने वाले चंद्र कांत ने कहा कि बेटा काफी समय से डिप्रेशन में था।

Tags
Back to top button