छत्तीसगढ़

सार्वजनिक प्रयोजनों से जुड़ी भूमियों के खसरे को कैफियत काॅलम में दर्ज करें-कलेक्टर

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

बलरामपुर: संयुक्त जिला कार्यालय भवन के सभाकक्ष में कलेक्टर श्री श्याम धावड़े की अध्यक्षता में समय-सीमा की बैठक आयोजित की गई। उन्होंने बैठक में सभी शासकीय भवनों तथा संस्थानों के खसरे को कैफियत काॅलम में दर्ज करने के निर्देश देते हुए कहा कि शासकीय प्रयोजन की भूमि तथा जनजातीय समुदाय से संबंधित धार्मिक स्थलों को संरक्षित किया जाये तथा इनका किसी भी रूप में अतिक्रमण न हो। साथ ही उन्होंने समय-सीमा में लंबित प्रकरणों की चर्चा कर शीघ्र निराकरण करने के निर्देश दिये। जिले में धान खरीदी की अद्यतन स्थिति तथा बारदानों की उपलब्धता के बारे में जिला विपणन अधिकारी से जानकारी लेते हुए कहा कि अंतिम दस दिनों की खरीदी शेष है। इस दौरान अवैध धान खपाने की संभावनाओं को देखते हुए अधिकारी खरीदी केन्द्रों का गहन और सतत निरीक्षण करें। कलेक्टर श्री धावड़े ने कहा कि एफआरए कलस्टर के लिए जिन विभागों को दायित्व सौंपे गये हैं वे समन्वय के साथ कार्य करें एवं अधिकारियों की उपस्थिति ही नहीं बल्कि कार्य तथा परिणाम प्रभावी होना चाहिए। समय-सीमा की बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचयात श्रीमती तुलिका प्रजापति ने गौठानों के सतत तथा दीर्घकालिक विकास के लिए कुछ महत्वपूर्ण विषयों पर अधिकारियों से चर्चा करते हुए महिलाओं को आर्थिक स्थिति से सक्षम बनाने के लिए गौठानों को आजीविका के केन्द्र के रूप मे विकसित करने के प्रयासों को और अधिक विस्तार देने पर जोर देने की बात कही।

कलेक्टर श्री श्याम धावड़े ने समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व से कहा कि शासकीय तथा सार्वजनिक प्रयोजनों से जुड़ी भूमियों के खसरे को कैफियत काॅलम में दर्ज करें एवं राजस्व रिकार्ड में संबंधित संस्थान के भूमि व रकबे की जानकारी आॅनलाईन उपलब्ध हो। इसी प्रकार जनजातीय समुदाय की प्रकृति पूजा में आस्था के दृष्टिगत धार्मिक स्थलों को भी संरक्षित किया जाये। उन्होंने समस्त कार्यालय प्रमुखों को लंबित अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों का शीघ्र निराकरण करने के निर्देश देते हुए कहा कि अनावश्यक कार्यों से नियुक्ति में विलंब न किया जाये। कलेक्टर श्री धावडे़ ने जिला अस्पताल में डायलिसिस यूनिट प्रारंभ करने के लिए की जा रही तैयारियों की जानकारी लेते हुए स्वास्थ्य अधिकारियों से कहा कि इसे जल्द शुरू किया जाये ताकि आने वाले समय में मरीजों को इस आशय से अन्यत्र कहीं जाना न पड़े। जिला अस्पताल परिसर में सुलभ शौचालय, गार्डनिंग, पोषण पुनर्वास केन्द्र में खुले जगह का मरम्मत कार्य के प्रगति की समीक्षा करते हुए लंबित निर्माण कार्यों को शीघ्र पूर्ण करने के लिए कहा। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान, हाट बाजार क्लिीनिक योजना तथा हेल्थ एण्ड वेलनेस सेन्टर के संचालन के बारे में संबंधित अधिकारियों से चर्चा कर स्वास्थ्य सेवाओं का बेहतर क्रियान्वयन का कार्य गंभीरतापूर्वक करने को कहा। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती तुलिका प्रजापति ने गोधन न्याय योजना के संबंध में विभागीय अधिकारियों से चर्चा कर गोबर खरीदी, भुगतान तथा तैयार किये गये वर्मी कम्पोस्ट की मात्रा की जानकारी लेते हुए कहा कि बाहर से केंचुआ लाने के बजाय स्थानीय स्तर पर इनका उत्पादन करने से वर्मी कम्पोस्ट निर्माण की लागत में कमी आयेगी। उन्होंने गौठान में महिला समूहों के माध्यम से विभिन्न आजीविका मूलक गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए किये जा रहे प्रयासों को गति देने की बात कही तथा गौठानों में फलदार पौधों के साथ ही सामुदायिक बाड़ी विकास के लिए भी कार्य करने के निर्देश दिये। बैठक में अपर कलेक्टर श्री विजय कुमार कुजूर ने गणतंत्र दिवस की तैयारियों के संबंध में विभागीय अधिकारियों को सौंपे गये दायित्व के अनुरूप कार्य करने को कहा। उन्होंने गणतंत्र दिवस के मुख्य समारोह का आयोजन पुलिस परेड ग्राउण्ड में होने तथा सादगीपूर्ण ढं़ग से मनाने के संबंध में शासन के निर्देशों से को अधिकारियों को अवगत कराया।

इस अवसर पर डिप्टी कलेक्टर श्री बालेश्वर राम, श्री प्रवेश पैंकरा, समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व तथा सर्व कार्यालय प्रमुख उपस्थित थे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button