अति सक्रिय ज्वालामुखी में पिछले हफ्ते फिर से हुआ विस्फोट, दूर-दूर तक फैला लावा

यूरोप के सबसे बड़े ज्वालामुखी से निकलते लावा को देखने के लिए दूर दूर से आ रहे लोग

नई दिल्ली:माउंट एटना ज्वालामुखी पिछले 2 हफ्तों से धधक रहा है. रविवार तड़के हुआ विस्फोट एक हफ्ते में चौथा विस्फोट है. यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के उपग्रह ने कुछ असाधारण तस्वीरें अंतरिक्ष से भेजी है.

माउंट एटना में विस्फोट से दूर-दूर तक फैला लावा विस्फोट में ज्वालामुखी से निकलता लावा दूर दूर तक फैल रहा है और उसकी जद में आने वाले को खाक कर रहा है. यूरोप के सबसे बड़े ज्वालामुखी से निकलते लावा को देखने के लिए लोग दूर दूर से आ रहे हैं.

हालांकि हर बार की तरह इस बार ये विस्फोट आसपास के शहरों के लिए कोई खतरा नहीं माना जा रहा क्योंकि विस्फोट की ताकत कम है. ये लावा तीन या चार किलोमीटर तक नीचे गिर रहा है. शिखर से आने वाला ये लावा आगे नहीं बहता. इसलिए ये आस-पास के शहरों के लिए खतरा नहीं है.

माउंट एटना ज्वालामुखी देखने के लिए उमड़ी भीड़ सिसली का माउंट एटना पर्वत यूरोप का सबसे पुराना और बड़ा सक्रिय ज्वालामुखी है. ये ज्वालामुखी करीब 7 लाख सालों से सक्रिय है. हर साल ये ज्वालामुखी करीब 10 लाख टन से ज्यादा लावा और 7 मिलियन टन कार्बन डाइऑक्साइड, पानी और सल्फर डाइऑक्साइड पैदा करता है.

माउंट एटना के विस्फोटों को 1500 ईसा पूर्व में भी दर्ज किया गया है. माउंट एटना से निकले लावा को देखने के लिए लोग दुनिया भर से आते हैं, क्योंकि ये लावा रात के अंधेरे में चमकता है. कॉपरनिक्स सेंटिनल-2 मिशन एटना के ताजा विस्फोट को ट्रैक कर रहा है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button