स्वच्छता में शहर को अग्रणी बनाने हेतु सभी का सहयोग आवश्यक: कलेक्टर

स्वच्छता सर्वेक्षण को सफल बनाने महा रैली का किया गया आयोजन

स्वच्छता में शहर को अग्रणी बनाने हेतु सभी का सहयोग आवश्यक: कलेक्टर

राजनांदगांव :कलेक्टर श्री भीम सिंह ने कहा कि जनवरी 2018 में होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण में संस्कारधानी नगरी राजनांदगांव को सर्वोच्च स्थान दिलाने हेतु शहर के आम नागरिकों एवं सभी वर्गों का सहयोग अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि समाज के सभी वर्गों के सहयोग से ही राजनांदगांव शहर स्वच्छता के क्षेत्र में अग्रणी बनकर स्वच्छता रैकिंग में प्रथम स्थान हासिल करेगा। कलेक्टर श्री सिंह स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 के अंतर्गत म्यूनिसिपल हाई स्कूल मैदान राजनांदगांव में स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत आज 21 दिसम्बर को आयोजित की गई महारैली में उपस्थित लोगों को संबोधित कर रहे थे।

ज्ञातव्य हो कि जनवरी 2018 में होने वाली स्वच्छता सर्वेक्षण में राजनांदगांव शहर को प्रथम स्थान दिलाने हेतु जिला एवं निगम प्रशासन के द्वारा युद्ध स्तर पर प्रयास किया जा रहा है। इसके अंतर्गत आज महापौर श्री मधुसूदन यादव, नगर निगम के सभापति श्री शिव वर्मा, आयुक्त नगर निगम श्री अश्वनी देवांगन, नगर निगम के एमआईसी मेम्बर श्री बलवंत साव, पार्षद मणीभास्कर गुप्ता ने भी आम नागरिकों एवं स्कूली बच्चों के साथ स्वच्छता महारैली में शामिल होकर अपनी सहभागिता निभाई। इस दौरान कलेक्टर श्री भीम सिंह एवं नगर निगम के सभापति श्री शिव वर्मा एवं जनप्रतिनधियों ने स्वच्छता महारैली को हरी झंडी दिखाकर रवाना भी किया।

इस अवसर पर कलेक्टर ने आम नागरिकों को स्वच्छता ही सेवा का संदेश देने एवं स्वच्छता के प्रति आम नागरिकों को जागरूक करने की भी अपील की। कलेक्टर ने कहा कि जनवरी 2018 में स्वच्छता सर्वेक्षण होने वाला है। जिसके आधार पर शहर के स्वच्छता का आंकलन होगा।

इसके अंतर्गत शहर के नालों, गलियों, चौक-चौराहों सहित सभी शासकीय, निजी एवं सार्वजनिक स्थानों की सफाई व्यवस्था का जायजा लेने के साथ-साथ नागरिकों का शहर की सफाई व्यवस्था के प्रति दृष्टिकोण एवं संतुष्टि का भी आंकलन किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण दल द्वारा शहर के अस्पतालों के मरीजों एवं आम नागरिकों से भी सफाई व्यवस्था के संबंध में राय ली जाएगी। श्री सिंह ने उपस्थित लोगों को राजनांदगांव शहर में चलाई जा रही स्वच्छता अभियान के संबंध में भी जानकारी दी। इसके साथ ही उन्होंने शहर के हॉट बाजार आदि सार्वजनिक स्थानों में भी साफ-सफाई की पुख्ता इंतिजाम करने की आवश्यकता बतायी। उन्होंने स्वच्छता रैली में उपस्थित विद्यार्थियों को अपने पालकों एवं आस-पास के लोगों को स्वच्छता के महत्व के संबंध में जानकारी देकर इसके लिए प्रेरित करने को भी कहा। कलेक्टर ने प्रत्येक 15 दिनों में शहर की सफाई व्यवस्था का आंकलन करने की भी जानकारी दी।

नगर निगम के सभापति श्री शिव वर्मा ने कहा कि जनवरी 2018 में किए जाने वाले स्वच्छता संर्वेक्षण की रैंकिंग में राजनांदगांव शहर को सर्वोच्च स्थान दिलाने एवं स्वच्छता अभियान को सफल बनाने का दायित्व शहर के समस्त नागरिकों की है।

उन्होंने आशा व्यक्त किया कि जिला एवं निगम प्रशासन तथा शहर के नागरिकों के सहयोग से राजनांदगांव शहर स्वच्छता सर्वेक्षण की रैंकिंग में सर्वोच्च स्थान हासिल करने में सफल होगी। कार्यक्रम में नगर के विभिन्न शिक्षण संस्थानों के छात्र-छात्राओं के अलावा अधिकारी-कर्मचारी, शिक्षक-शिक्षिका, जनप्रतिनिधि, आम नागरिक एवं नगर के गणमान्यजन उपस्थित थे।

advt
Back to top button