संबंधित मतदान केन्द्रों से सूचना मिलने पर ही बदली गईं ईवीएम मशीनें

मतदान कराया गया मशीन स्ट्रांग रूम में तगड़ी सुरक्षा में रखी गई

रायपुर :

इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन के खराब होने की शिकायत कतिपय स्रोतों के द्वारा ही की जा रही है। उनके द्वारा यह शिकायत की जा रही है कि ईवीएम मशीनें अत्यधिक संख्या में बदली गई हैं जबकि वस्तुस्थिति यह है कि संबंधित मतदान केन्द्रों से सूचना मिलने पर ही आवश्यकतानुसार ईवीएम मशीनें बदली गईं।

मशीनों के बदले जाने तक कहीं पर भी मतदान आधे से एक घंटे की अवधि से अधिक बाधित नहीं हुआ। जिन मशीनों से मतदान कराया गया वे सभी मशीनें जिलों में स्थापित स्ट्रांग रूम में तगड़ी सुरक्षा में रखी गई हैं।

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि द्वितीय चरण में मतदान के दौरान मतदान केन्द्रों की संख्या के हिसाब से दूसरे चरण में 25 हजार 640 बैलेट यूनिट, 19 हजार 335 कंट्रोल यूनिट और 19 हजार 335 वीवीपेट मशीनें मतदान के लिए उपयोग में लाई गईं। इनमें से सूचना मिलते ही 124 बैलेट यूनिट, 84 कंट्रोल यूनिट और 510 वीवीपैट मशीनें बदली गईं।

1
Back to top button