Exclusive : रायपुर के विलुप्त हुए तालाबों पर हाईकोर्ट ने माँगा सरकार से जवाब

एक रिटायर्ड आर्मी ऑफिसर ने दायर की है याचिका

Exclusive : रायपुर के विलुप्त हुए तालाबों पर हाईकोर्ट ने माँगा सरकार से जवाब

रायपुर : राजधानी रायपुर को एक समय तालाबों का शहर कहा जाता था लेकिन पिछले कुछ सालों में तालाबों की स्थिति बेहद दयनीय हो गई है. कुछ सालों से यहाँ तालाबों की संख्या में काफी कमी आई है. ऐसे में अब कई सामाजिक संस्थाओं ने इसकों लेकर काम शुरू कर दिया है.

इसी कड़ी में रिटायर्ड आर्मी अफसर प्रदीप यदु ने भी रायपुर के तालाबों के विल्पुत होने पर हाई कोर्ट छत्तीसगढ़ में एक जनहित याचिका दायर की थी जिसमे कोर्ट ने सरकार से जवाब माँगा है. प्रदीप यदु ने क्लिपर 28 से चर्चा करते हुए बताया कि उन्होंने अपने याचिका में रायपुर के करीब 54 तालाबों के विलुप्त होने की जानकारी कोर्ट में दी थी जिसके बाद कोर्ट ने राज्य सरकार से 28 दिनों के भीतर जवाब माँगा हैं.

उन्होंने बताया कि कोर्ट ने अपने आदेश में ये भी कहा है कि तालाबों के विलुप्त होने का मामला कोर्ट की अवमानना है ऐसे में हर एक तालाब की डिटेल देने और उसके पिछले कौन जिम्मेदार हैं इसे भी कोर्ट को देने के आदेश दिए हैं. रिटायर्ड आर्मी अफसर ने कहा कि वे जल्द ही कोर्ट को सभी तालाबों की डिटेल सौपं देंगे.

गौरतलब है कि राजधानी रायपुर में तालाबों की संख्या में भारी गिरावट हुई है पहले यहाँ जो नामचीन तालाब थे अब उन्हें पाट कर वहां पर या तो काम्प्लेक्स बना दिया गया है या फिर उसमे कब्जा कर लिया गया है.
ताज़ा हिंदी खबरों के साथ अपने आप को अपडेट रखिये, और हमसे जुड़िये फेसबुक और ट्विटर के ज़रिये

Tags
Back to top button