Exclusive : मंत्रीजी जरा इधर भी गौर करें , उपस्वास्थ्य केन्द्रों में दवाइयों की कमी है

सबसे जरुरी दवाइयां ही नहीं मिल रही है

Exclusive : मंत्रीजी जरा इधर भी गौर करें , उपस्वास्थ्य केन्द्रों में दवाइयों की कमी है

रायपुर : प्रदेश में वैसे तो स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर सरकार और उनके स्वास्थ्य मंत्री बड़ी बड़ी बात करते हैं लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है. आम लोगों को प्राथमिक स्वास्थ्य सुविधा जल्दी मिल सके इसके लिए सरकार ने प्रदेश भर में स्वास्थ्य केन्द्र और उप स्वास्थ्य केन्द्रों की स्थापना की है.

सरकार ने इनको जिस उद्देश्य से शुरू किया था अब वो पूरा होते नहीं दिख रहा है. राजधानी रायपुर और उसके आस पास स्थित स्वास्थ्य केन्द्रों का हाल बुरा है. यहाँ पर डॉक्टर तो मिलते हैं लेकिन दवाइयों का रोना रहता है. जो सबसे जरुरी दवाइयां होती है उनकी की कमी रहती है.

क्लिपर 28 को मिली जानकारी के अनुसार इस समय रायपुर जिले के अधिकतर स्वास्थ्य और उपस्वास्थ्य केन्द्रों में कुछ दवाइयों की कमी है. जानकारी के मुताबिक जो सबसे अधिक उपयोगी दवाई है मेट्रोजिल और tinidazole इन दोनों की कमी बताई जा रही हैं.

जानकारों की माने तो ये दवाई बेहद ही उपयोगी रहती है. वहीँ इन दवाइयों की कमी को लेकर जब सीएमएचओ से बात किया गया तो उन्होंने बताया कि अगर किसी जगह पर इसकी कमी है तो सीजीएमएससी से अनुमति लेकर दीप ज्योति स्वास्थ्य समिति अपने स्वास्थ्य या उप स्वास्थ्य केन्द्र के लिए खरीद ससकते है.

उन्होंने कहा अगर कमी है तो उसको दिखवाया जायेगा. गौरतलब है कि स्वास्थ्य विभाग छत्तीसगढ़ में लोगों को बेहतर सुविधा देने की बात करता है लेकिन दवाइयों की कमी को देखकर असलियत का अंदाजा लगाया जा सकता है.

Back to top button