क्राइमबड़ी खबरराष्ट्रीय

हिंसा भड़काने के आरोप में पूर्व IPS गिरफ्तार

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में नागरिकता ऐक्ट के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले रिटायर्ड आईपीएस अधिकारी एसआर दारापुरी को पुलिस ने दंगों के आरोप में गिरफ्तार कर लिया।

पूर्व अधिकारी की गिरफ्तारी पर उनके परिजन हैरान हैं। दारापुरी के बेटे और पोते ने उनकी गिरफ्तारी को लेकर दुख जताया है और कहा है कि उन्होंने लोगों को अहिंसक तरीके से सीएए का विरोध करने के लिए कहा था।

बता दें कि 19 दिसंबर को नागरिकता ऐक्ट के विरोध प्रदर्शन के दौरान दारापुरी पर दंगा फैलाने आरोप लगाया और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था।

दारापुरी के पोते सिद्धार्थ दारापुरी ने फेसबुक पर अपनी एक पोस्ट में कहा कि एक आदमी जिसने रिटायरमेंट के बाद दलितों, आदिवासियों, अल्पसंख्यकों और हाशिये के लोगों के लिए अपने आपको समर्पित कर दिया था, उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। उन्होंने कहा कि मेरे दादाजी ने उनकी जीप पर गोलियों से हमला करने वाले एक बदमाश पर भी गोली नहीं चलाई थी।

दारापुरी के बेटे वेद कुमार ने बताया कि उनके पिता कैंसर के मरीज हैं। हाल ही में उनका इलाज शुरू किया गया था। उन्होंने बताया कि उन्हें समय पर दवाएं लेनी होती है। पुलिस ने उन्हें अपने पिता को दवाएं देने की अनुमति दी थी लेकिन 20 दिसंबर को उनकी गिरफ्तारी के बाद से पुलिस ने उन्हें कहां रखा है, इसकी जानकारी उन्हें नहीं दी गई है। वेद ने बताया कि उनकी मां (दारापुरी की पत्नी) भी लीवर की गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं और बेड पर हैं।

गौरतलब है कि दारापुरी पर दंगा भड़काने की साजिश रचने के मामले में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने बताया कि जांच के बाद उनके खिलाफ कुछ और आरोप जोड़े जा सकते हैं।

Tags
Back to top button