अंतर्राष्ट्रीय

विदेश मंत्री ने कबूला, पाकिस्तान में आतंकी संगठन जैश का सरगना मसूद अजहर

इस्लामाबाद: जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में 14 फरवरी को आतंकवादी हमले के बाद भारत-पाकिस्तान के बीच तनाव बढ्ने के बाद आज शुक्रवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कुबूल किया है कि आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर उनके देश में है.

भारत द्वारा अकाट्य’ प्रमाण देने पर ही होगा अजहर के खिलाफ कार्यवाही

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर के उनके देश में मौजूद होने की बात कबूलते हुए कहा कि भारत द्वारा ‘ठोस’ तथा ‘अकाट्य’ प्रमाण देने पर ही सरकार उसके खिलाफ कोई कदम उठा सकती है.

कुरैशी ने अजहर पर ‘सीएनएन’ से कहा, ‘‘मुझे मिली जानकारी के मुताबिक वह पाकिस्तान में ही है. वह इस हद तक बीमार है कि घर से बाहर भी नहीं निकल सकता, क्योंकि वह काफी बीमार है’.

मसूद अजहर पाकिस्तान में सक्रिय जैश-ए-मोहम्मद का सरगना है, जिसने पुलवामा हमले की जिम्मेदारी ली थी. भारत लंबे समय से उसे संयुक्त राष्ट्र की आतंकवादियों की सूची में शामिल कराने की कोशिश कर रहा है. हालांकि, पाकिस्तान का सहयोगी चीन अपने वीटो अधिकार का इस्तेमाल कर बार-बार इन प्रयासों को बाधित कर देता है.

कुरैशी ने यह भी कहा कि अदालत में पेश किए जाने लायक सबूत देने पर पाकिस्तान उसके खिलाफ कदम उठाएगा. उन्होंने कहा, ‘अगर उनके पास ठोस, अकाट्य प्रमाण हैं जो कि अदालत में पेश किए जा सकें, उन्हें हमसे साझा करें ताकि हम लोगों को विश्वास दिला सकें और पाकिस्तान की स्वतंत्र न्यायपालिका को विश्वास दिला सकें’

विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को सौंपने के कदम को बताया शांति की पहल

उन्होंने कहा, ‘हमें कानूनी प्रक्रिया पूरी करनी होगी’. कुरैशी ने भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को सौंपने के कदम को ‘शांति की पहल’ बताते हुए कहा कि इसे पाकिस्तान की ‘तनाव कम करने की इच्छा’ के तौर पर देखा जाना चाहिए.

आपको बता दें कि दोनों मुल्कों के बीच जारी तनाव के बीच विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Abhinandan Varthaman) आज देश वापस लौटेंगे. वाघा बॉर्डर के रास्ते वो पाकिस्तान से भारत आएंगे.

सूत्रों के मुताबिक विंग कमांडर अभिनंदन को रावलपिंडी से विमान के ज़रिए लाहौर लाया जाएगा. इसके बाद वाघा पर भारतीय उच्चायोग के एअर अटैची को सौंपा जाएगा जो उन्हें लेकर बॉर्डर क्रॉस करेंगे. भारत और अंतरराष्ट्रीय जगत के दबाव के बाद कल पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान ख़ान ने पाक संसद में विंग कमांडर को रिहा करने का एलान किया था.

Tags
Back to top button