चीन दौरे पर विदेश मंत्री सुषमा ने साफ़ किया, नहीं होगी पाकिस्तान बातचीत

नई दिल्ली : विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) में हिस्सा लेने चीन पहुंच चुकीं हैं। 24 अप्रैल को होने वाली इस बैठक में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी शिरकत केरेंगी। बीजिंग में रविवार को चीन के विदेश मंत्री वांग ई से सुषमा स्वराज मुलाकात करेंगीं। इस दौरे के दौरान भारत और पाकिस्तान के मंत्रियों के बीच द्विपक्षीय मुलाकात का कार्यक्रम नहीं है।

भारत और पाकिस्तान के शामिल होने के बाद पहली बैठक : एससीओ की बैठक के लिए जून में चीन के शहर क्विंगदाओ में होने वाले संगठन के शिखर सम्मेलन की तैयारी के सिलसिले में हो रही है। 8 सदस्यों के संगठन में भारत और पाकिस्तान के प्रवेश के बाद यह पहली बैठक हो रही है। इस बैठक में पाकिस्तान के दोनों महत्वपूर्ण मंत्री के शामिल होने की भी संभावना है। बैठक में क्षेत्रीय सुरक्षा और आतंकवाद जैसे मुद्दों पर भी चर्चा होगी।

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनिइंग ने बताया कि क्षेत्रीय सुरक्षा का मुद्दा एससीओ की प्राथमिकताओं में से एक है। उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा पाकिस्तान को टेरर ऐक्सपोर्ट फैक्ट्री कहे जाने पर अपने साथी देश का बचाव किया।

बता दें कि 2016 में पठानकोट एयरबेस पर हुए आतंकी हमले के बाद से दोनों देशों के बीच संबंध बिगड़े हुए हैं। इसके बाद उरी में स्थित सेना शिविर पर हुए हमले के बाद ये रिश्ते और बिगड़ गए। इसी के जवाब में भारत ने गुलाम कश्मीर में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था।

Back to top button