Facebook ने बंद किए 58 करोड़ से भी अधिक फेक अकाउंट्स

जालंधरः सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने सेक्स और हेट स्पीच को बढ़ावा देने वाले 58.3 करोड़ फर्जी अकाउंट को बंद किया है। फेसबुक ने यह अकाउंट पिछले तीन महीने में बंद किए है। बता दें कि फेसबुक समय-समय पर ऐसे फेक अकाउंट के खिलाफ कार्रवाई करता रहता है जो फेक न्यूज से लेकर आतंकवाद को बढ़ावा देने वाले सामग्री का प्रचार करते हैं।

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने लिखा पोस्ट : फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने इस बात की जानकारी एक पोस्ट के जरिए दी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार फेसबुक ने आर्टिफिशल इंटेलिजेंस के इस्तेमाल और टैक्नोलॉजी की मदद से वॉइलेंस वाली पोस्ट को डिलीट किया गया है।

उन्होंने कहा कि फेसबुक में सबसे ज्यादा पोस्ट अडल्ट न्यूडिटी या सेक्सुअल ऐक्टिविटी की थीं। फेसबुक ने खुद 38 फीसदी कन्टेंट को ही पहचाना, जबकि बाकी सबकी शिकायत फेसबुक यूजर्स द्वारा की गई थी। अक्टूबर-दिसंबर 2017 की तरह ही 2018 के पहले तीन महीनों में भी इस तरह की पोस्ट्स की संख्या करीब 21 मिलियन रही।

फेसबुक ने सस्पेंड किए 200 एप्स : कैंब्रिज एनालिटिका स्कैंडल के बाद फेसबुक ने अपनी एप्स सहित यूज़र की डाटा पॉलिसी में कई छोटे बड़े बदलाव किए हैं। अब हजारों एप्पस की जांच के बाद फेसबुक ने यूजर्स की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए करीब 200 एप्स को सस्पैंड कर दिया है।

फेसबुक ने आरोप लगाते हुए कहा है कि ये एप्स यूजर्स के डाटा को जरूरत से ज्यादा एक्सैस कर रही थीं जिस वजह से हमने इन्हें अपने प्लैटफोर्म से हटा दिया है। फेसबुक के प्रोडक्ट पार्टनरशिप वाईस प्रेसिडेंट इमी आर्कबोंग ने जानकारी देते हुए बताया है कि फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है। हमारे पास एक्सपर्ट्स की एक बड़ी टीम है जो संवेदनशील एप्स की जांच कर रही हैं।

Back to top button