अंतर्राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री नियुक्त करने में हुए नाकाम राजनीतिक दल के कार्यवाहक

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की सत्तारूढ़ पार्टी पाकिस्तान मुस्लिम लीग – नवाज (पीएमएल – एल) और विपक्ष जुलाई में आम चुनाव के बाद नई सरकार के गठन तक एक कार्यवाहक प्रधानमंत्री नियुक्त करने में शुक्रवार को नाकाम रहे। मौजूदा सरकार का कार्यकाल 31 मई को पूरा हो जाएगा और नई सरकार का गठन 60 दिन के भीतर होगा। कानून के तहत इस अवधि में सत्ता पक्ष एवं विपक्ष दोनों के समर्थन वाली एक निष्पक्ष सरकार गठित की जाती है।

निष्पक्ष प्रधानमंत्री नियुक्त करने की जिम्मेदारी प्रधानमंत्री और विपक्ष की
एक निष्पक्ष प्रधानमंत्री नियुक्त करने की बुनियादी जिम्मेदारी सदन के नेता (प्रधानमंत्री) और विपक्ष के नेता की है जिन्हें कार्यवाहक नेता के नाम पर सहमत होने के लिए विचार विमर्श करने की जरूरत होती है। विपक्ष के नेता और पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के सदस्य खुर्शीद शाह ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने सहमति बनाने के लिए प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी के साथ पांच चरण की बातचीत की लेकिन उनके बीच एक भी नाम पर सहमति नहीं बनी।

दो-दो उम्मीदवारों के नाम भेजेगा सत्ता पक्ष और विपक्ष
उन्होंने कहा कि कानून के अनुरूप वह नेशनल एसेंबली (संसद का निचला सदन) के अध्यक्ष से कार्यवाहक प्रधानमंत्री के नाम पर सहमति बनाने की खातिर सत्तारूढ़ पीएमएल – एन के सदस्यों एवं विपक्ष के सदस्यों को शामिल करते हुए एक संसदीय समिति गठित करने की मांग करेंगे। शाह ने कहा कि विपक्ष समिति में अपने दो उम्मीदवारों के नाम भेजेगा। इसी तरह सरकार भी समिति के लिए अपने दो उम्मीदवारों के नाम देगी। इसके बाद भी अगर समिति एक भी नाम पर सहमत नहीं हुई तो आखिरकार पाकिस्तान चुनाव आयोग से कार्यवाहक प्रधानमंत्री नियुक्त करने को कहा जाएगा। पाकिस्तान चुनाव आयोग ने सोमवार को आम चुनाव कराने के लिए 25-27 जुलाई की तारीख प्रस्तावित की थी।

01 Jun 2020, 3:13 AM (GMT)

India Covid19 Cases Update

194,504 Total
5,448 Deaths
93,343 Recovered

Tags
Back to top button