छत्तीसगढ़

अवैध शराब पर रोकथाम लगाने में नाकाम, आबकारी आयुक्त को हटाया

रायपुर।

चुनाव में मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए लाई जा रही अवैध शराब पर रोकथाम लगाने में नाकाम आबकारी आयुक्त डीडी सिंह को निर्वाचन आयोग के निर्देश पर हटा दिया गया है। उनकी जगह कमलप्रीत सिंह को आबकारी विभाग का चार्ज दिया गया है। कमलप्रीत ब्रेवरेज कार्पोरेशन के भी इंचार्ज होंगे।

राज्य में शराब की बिक्री और आपूर्ति सरकारी तंत्र के पास होने के कारण पहले से ही विपक्षी दल लगातार इसे हथियार बना रहे थे। राज्य में लगातार अवैध शराब की खेप पकड़ी भी जा रही थी। चुनाव के दौरान अवैध शराब की सप्लाई की लगातार शिकायत मिलने के बाद आयोग ने कार्रवाई की।

2013 में कुल 44 हजार 418 लीटर अवैध शराब राज्य में पकड़ी गई थी। इस वर्ष अभी तक यह आंकड़ा 44 हजार सात सौ लीटर से अधिक पहुंच गया है। विपक्षी दल शराब के स्टॉक में हेरफेर कर अवैध शराब मुहैया कराने के आरोप लगाते रहे हैं।

राज्य में पड़ोसी राज्यों से आने वाली शराब भी पकड़ी गई है। आयोग ने शिकायत व आंकड़ों को गंभीरता से लिया और माना कि आबकारी आयुक्त डीडी सिंह इन मामलों पर अंकुश लगाने में विफल हैं। निर्वाचन आयोग के निर्देश पर शासन ने शुक्रवार को आबकारी सचिव को पद से हटाते हुए अग्रिम आदेश तक कमलप्रीत सिंह को आबकारी विभाग का चार्ज दे दिया।

Summary
Review Date
Reviewed Item
अवैध शराब पर रोकथाम लगाने में नाकाम, आबकारी आयुक्त को हटाया
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags