पारिवारिक संस्कार और सेवा ही अग्रवाल समाज की पहचान: बृजमोहन

-अग्रवाल समाज के युवक-युवती परिचय सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए कृषि मंत्री

रायपुर। मध्यप्रदेश के सेंधवा में आयोजित अग्रवाल समाज के अखिल भारतीय युवक युवती-परिचय सम्मेलन में छत्तीसगढ़ प्रदेश के कृषि एवं सिंचाई मंत्री बृजमोहन अग्रवाल बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुए।

सम्मेलन के शुभारंभ अवसर पर उपस्थित देश भर से आए अग्रवाल समाज के लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि यह परिचय सम्मेलन समाज की स्वस्थ परंपरा है। इस आयोजन से परिजनों को अपने बेटे-बेटियों के लिए योग्य वर-वधु ढूंढने में आसानी तो होती ही है, इससे धन और समय दोनों की बचत होती है। समाज को चाहिए कि इसी तरह सामूहिक विवाह का भी आयोजन हो ताकि बेटे-बेटियों को पूरे समाज का आशीर्वाद एक साथ मिल सके। इस अवसर पर उन्होंने परिचय सम्मेलन में पधारें युवक-युवतियों को शुभकामनाएं दी।

बृजमोहन ने कहा कि पारिवारिक संस्कार ही हम अग्रवालों की पहचान है। बदलते दौर में कही कही संस्कारों का क्षरण देखने को मिल रहा है । जिसके कारण परिवार बिखरते दिख जाते हैं। ऐसे में हमे ऐसा प्रयास करना चाहिए कि संस्कार बने रहे। परिवार एकजुट रहे ताकि हम अपनी श्रेष्ठता बनाए रख सके। इस सम्मेलन में 29 प्रांतों के 1000 लोगों ने हिस्सा लिया।

इस अवसर पर अग्रवाल समाज के अध्यक्ष कैलाश एरन ने अतिथियों का अभिनंदन किया। कार्यक्रम में पुरुषोत्तम गोयल, किरण तायल, गिरधारी गोयल, श्यामसुंदर तायल, रोहित गर्ग, सुनील अग्रवाल आदि उपस्थित थे।

-मोबाइल एप्लिकेशन व पत्रिका का विमोचन
इस सम्मेलन में अग्रवाल समाज सेंधवा के मोबाइल एप्लीकेशन तथा सामाजिक पत्रिका का बृजमोहन अग्रवाल ने विमोचन किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि समय के साथ-साथ चलना बेहद जरूरी है। आज की आपाधापी के दौर में लोग मोबाइल पर ही सारी जानकारी पाना चाहते हैं। ऐसे में मोबाइल एप्लीकेशन सहायक सिद्ध होगा। साथ ही पत्रिका भी समाज के लोगों को जोड़ने में अपनी भूमिका निभाएगा।
<>

new jindal advt tree advt
Back to top button