छत्तीसगढ़राज्य

फरियादी – सर ब्याज माफ कर दो… कर दूंगा लगेगी रिश्वत – बैंक चैयरमेन, अब जेल में गुजरेगा समय

3 साल पुराने मामले में एसीबी कोर्ट ने दिया फैसला

दुर्ग: एसीबी कोर्ट के न्यायाधीश विजय कुमार साहू ने 3 साल पुराने रिश्वत मांगने के मामले में 3 साल और रिश्वत लेने के मामले में 4 साल की सजा सुनाई है। ये दोनों सजा एक साथ चलेगी। आरोपी को कुल 3 हजार का जुर्माना भी लगाया गया है। जुर्मार्नानहीं भरने पर तीन माह अतिरिक्त कारावास भुगतनी होगी।

क्या है पूरा मामला

नागरिक सहकारी केन्द्रीय बैंक सेक्टर-6 भिलाई के अध्यक्ष मनोज कुमार शर्मा ने अनिल शर्मा से 25 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी। अनिल शर्मा ने इसकी शिकायत एसीबी से कर दी। 28 जनवरी 2015 को एसीबी ने इस शिकायत के आधार पर छापा मारा, जिसमें अनिल की शिकायत पर एसीबी ने 15 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए पकड़ लिया था। दरअसल फरियादी अनिल शर्मा ने नागरिक सहकारी केन्द्रीय बैंक से 75 हजार रुपए ऋण लिया था। समय पर किस्त नहीं भरने पर यह राशि बढ़कर 16 लाख रुपए हो गई।

बैंक के नोटिस पर अनिल ने अपनी आर्थिक स्थिति का हवाला देकर उपपंजीयक के समक्ष समझौता करने का आवेदन दिया। उपपंजीयक ने कुल 8 लाख 18 हजार 268 रुपए जमा करने का निर्देश दिया था। इसमें से 4.35 लाख रुपए देने के बाद बैंक अध्यक्ष ने ब्याज माफ करने के एवज में 50 हजार रुपए मांगे। इसमें से 25 हजार देने के बाद भी बैंक ने शेष राशि जमा करने नोटिस भेज दिया था।

Summary
Review Date
Reviewed Item
फरियादी-सर ब्याज माफ कर दो...कर दूंगा लगेगी रिश्वत-बैंक चैयरमेन, अब जेल में गुजरेगा समय
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *