छत्तीसगढ़

केशवनगर और नयनपुर के किसानों की बदलेगी तकदीर

सौर सामुदायिक सिंचाई योजना से सिंचाई का रकबा 185 एकड़ बढ़ेगा गांव में पांच एचपी के 60 सोलर पंप लगाए जाएंगे

रायपुर : सूरजपुर जिले के ग्राम केशवनगर में रेहर नदी पर बनाए गए एनीकट में सौर सामुदायिक सिंचाई योजना के पूर्ण होने पर यहां किसान तीन फसल ले सकेंगे। इन किसानों ने कल केशवनगर की चौपाल में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात की और उन्हें गांव में स्थापित की जा रही इस योजना के बारे में बताया।

ग्राम केशवनगर एवं नयनपुर के मध्य से रेहर नदी होकर गुजरती है, जिस पर जल संसाधन विभाग द्वारा एनीकट भी बनाया गया है। जिससे नदी में वर्ष भर पानी की उपलब्धता रहती है। ग्राम केशवनगर एवं नयनपुर में कुल 144 कृषकों की 185 एकड़ भूमि में सौर सामुदायिक सिंचाई योजना के तहत सिंचाई हेतु 60 नग 5 एच.पी. क्षमता के डी.सी. सोलर सरफेस पंप की स्थापना की जा रही है। जिसमें से 24 नग सोलर पंप स्थापित हो चुके हैं, शेष 36 नग सोलर पंप के स्थापना का कार्य प्रगति पर है।

सोलर पंप स्थापना के पूर्व कृषकों द्वारा सिर्फ एक फसल ही ला जा रही थी। किसान सिंचाई के साधन के अभाव में दूसरे कृषकों की जमीन पर मजदूरी कर गुजारा कर रहे थे। आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र होने के कारण गरीब तबके के किसानों के लिए डीजल पंप-केरोसीन पंप से सिंचाई कर पाना संभव नहीं था। पानी की उपलब्धता होने से सोलर पंप लग जाने से कृषकों में काफी उत्साह है।

किसान साग-सब्जियां इत्यादि लगाने के साथ ही नदी किनारे फलदार पौधे भी लगाए जा रहे हैं। योजना को सफल बनाने किसान सोलर पंप के माध्यम से सिंचाई कर 3 फसल लेने के लिए संकल्प भी लिया गया है। इस सौर सामुदायिक सिंचाई योजना से कृषकों की आय में वृद्धि होगी एवं जीवन स्तर में भी सुधार होगा।

Tags
Back to top button