प्लग टाईप यूनिट से किसानों को मिल रहे विभिन्न सब्जियों रोग रहित पौधे

प्रत्येक यूनिट की क्षमता प्रति वर्ष एक करोड़ पौध उत्पादन की

रायपुर, 23 जून 2021 : उद्यानिकी विभाग द्वारा राज्य के 6 शासकीय प्रक्षेत्रों में स्थापित प्लग टाईप वेजिटेबल सीडलिंग प्रोडक्शन यूनिट के माध्यम से राज्य के किसानों को रियायती दर पर विभिन्न सब्जियों एवं मसाला फसलों के रोग रहित पौधे उपलब्ध कराए जा रहे हैं, जिससे सब्जी एवं मसाले के उत्पादन में वृद्धि होने से किसानों को मुनाफा होने लगा है।

राज्य में उद्यानिकी फसलों का रकबा तेजी से बढ़ रहा है। उद्यानिकी फसलों विशेषकर सब्जी एवं मसाला फसलों के बीच से नर्सरी तैयार करने में प्लग टाईप वेजिटेबल सीडलिंग प्रोडक्शन यूनिट काफी मददगार साबित हो रही है। यह यूनिट पूर्ण रूप से स्वचलित है, जहां आधुनिक तकनीकों से कम समय में बीजों से उच्च गुणवत्ता वाले सीडलिंग (पौध थरहा) तैयार किये जाते है। प्रत्येक यूनिट की क्षमता एक करोड़ पौधा प्रति वर्ष उत्पादन की है। किसानों द्वारा प्रदाय किए गए सब्जी एवं मसाला फसलों के बीज से नर्सरी तैयार कर उपलब्ध कराए जाते हैं। यहां तैयार पौधे पूर्ण रूप से रोग रहित होते हैं।

रायपुर में वर्ष 2010-11

रायपुर जिले के बाना प्रक्षेत्र, बिलासपुर जिले के सरकण्डा, राजनांदगाव जिले के पेण्ड्री, सरगुजा जिले के अंबिकापुर, जगदलपुर के आसना एवं दुर्ग के धमधा विकासखण्ड के राजपुर ग्राम में प्लग टाईप वेजिटेबल सीडलिंग प्रोडक्शन इकाईयां संचालित की जा रही है। शासकीय प्रक्षेत्र बाना (विकासखण्ड धरसीवा) जिला-रायपुर में वर्ष 2010-11 में स्थापित प्लग टाईप यूनिट से अब तक कुल 8 करोड़ 25 लाख पौधे तैयार कर कृषकों को न्यूनतम दर पर उपलब्ध कराए गए हैं।

वर्तमान में रायपुर जिले के इस प्रक्षेत्र में खरीफ मौसम में कृषक द्वारा लगभग 20 लाख पौधे तैयार करवाने के लिए सब्जी बीज उपलब्ध कराए गए हैं, जिनसे पौधे बनाने का कार्य प्रगति पर है। सरकण्डा, जिला बिलासपुर मे प्लग टाईप वेजीटेबल सीडलिंग प्रोडक्शन यूनिट वर्ष 2015-16 में स्थापित की गई। इस यूनिट के माध्यम से अब तक 1 करोड़ 29 लाख पौधे तैयार कर किसानों को उपलब्ध कराए गए है। यहां वर्तमान वर्ष में 1 लाख बीज से पौधा तैयार किया जा रहा है। इसी तरह राजनांदगांव जिले की पंेड्री रोपणी में स्थापित प्लग टाईप यूनिट से अब तक 1 करोड़ 21 लाख पौधे तैयार किये जा चुके है एवं वर्तमान खरीफ मौसम में 12-15 लाख पौधे और तैयार कर कृषकों को प्रदाय किए जाएंगे।

इसी तरह सरगुजा के अम्बिकापुर, जगदलपुर के आसना, दुर्ग के धमधा में स्थापित प्लग टाईप यूनिट से अब तक लगभग 3 करोड़ पौधे तैयार कर किसानों को सब्जी एवं मसाले की खेती के लिए दिए जा चुके हैं। कृषकों को न्यूनतम दरों पर उच्च गुणवत्ता वाले पौधे उपलब्ध कराये गये है। उद्यानिकी विभाग ने सब्जी एवं मसाला फसलों का रोग रहित पौधा रियायती दर पर प्राप्त करने के लिए शासकीय प्रक्षेत्रों के प्रभारियों से सम्पर्क करने की अपील की है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button