ग्रो इंश्योरेंस पोर्टल बंद रहने से किसान फसल बीमा कराने से वंचित : कांग्रेस

किसानों के फसल बीमा को लेकर कांग्रेस का आरोप

ग्रो इंश्योरेंस पोर्टल बंद रहने से किसान फसल बीमा कराने से वंचित : कांग्रेस

रायपुर : प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बीमा हेतु बनाये गये एग्रो इंश्योरेंस पोर्टल के बंद होने से किसानों की फसल बीमा नहीं हो पाने के लिये भाजपा सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुये प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत समय सीमा में बीमा दावों का भुगतान सुनिश्चित करने के लिए एग्रो इंश्योरेंस पोर्टल पूर्व में ही विकसित कर लिया जाता तो किसानों की खराब हुई फसल की क्षतिपूर्ति राशि लेने के लिये भटकना नहीं पड़ता।

चार साल बाद फसल बीमा के दावों की सही समय पर भुगतान सुनिश्चित करने एग्रो इंश्योरेंस पोर्टल विकसित करना भाजपा सरकार के बीमा कंपनियों को फायदा पहुंचाने की नियत को स्पष्ट करता है। विकसित एग्रो इंश्योरेंस पोर्टल को भाजपा सरकार ने सॉफ्टवेयर में समय रहते अपडेट नहीं किया।

जिसका खामियाजा किसानों को भुगतना पड़ रहा है। पोर्टल को बिना सूचना के बंद करने से किसानों को जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई के लिये बीमा योजना की समय सीमा को बढ़ाया जाये। भाजपा सरकार की लापरवाही से अधिकांश किसानो का फसल का बीमा नही हो पाया।

उन्होंने भाजपा की केंद्र एवं राज्य सरकार को किसान विरोधी ठहराते हुए कहा कि खेती-किसानी का सीजन शुरू होने के पहले जानबूझकर प्रधानमंत्री बीमा योजना के सॉफ्टवेयर को अपडेट नहीं किया गया अब जब किसान खेती-किसानी में जुट गए हैं तब उक्त सॉफ्टवेयर को अपडेट करने के नाम से बिना सूचना के पोर्टल बंद करना किसानों के साथ धोखा छल है।

ऐसा करके केंद्र और राज्य की भाजपा सरकार सरकारी खजाने से मिलने वाले फसल बीमा के प्रीमियम भुगतान में भस्ट्राचार करने में जुटी हुई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई से आगे बढ़ाया जाये।

Back to top button