किसानों के मुद्दे पर संसद का घेराव, कांग्रेस सहित किसानों के 41 संगठन होंगे शामिल

मोदी सरकार पर दबाव बनाने का प्रयास करेंगे

नई दिल्ली :

किसान खेत मजदूर कांग्रेस ने किसानों के मुद्दों को लेकर आंदोलन का रास्ता अख्तियार कर लिया. जिसके तहत आज कंग्रेस किसानों के 41 संगठनों के साथ आज (मंगलवार) को संसद का घेराव करेगी .

मोदी सरकार पर दबाव बनाने का प्रयास करेंगे. प्रदर्शन की अगुवाई कांग्रेस का फ्रंटल संगठन किसान खेत मजदूर कांग्रेस कर रहा है. बताया जा रहा है कि विरोध मार्च में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी शामिल हो सकते हैं.

इस विरोध मार्च में किसानो के 41 बड़े संगठन भाग ले रहे हैं. सभी किसान पहले पार्लियामेंट स्ट्रीट पर इकट्ठा होंगे. जहां उन्हें कांग्रेस के नेता संबोधित करेंगे. इसके बाद संसद भवन की ओर मार्च शुरू किया जाएगा.

किसान खेत मजदूर कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले ने कहा है कि हम मोदी सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ 23 अक्टूबर को किसानों के साथ मिलकर संसद का घेराव करेंगे. पीएम मोदी ने 2014 के चुनाव प्रचार में जो वादे किए थे, उसमें से एक भी उन्होंने पूरा नहीं किया है. बीजेपी ने गरीब किसानों और खेत मजदूरों को धोखा दिया है.’

किसान लंबे समय से कर्ज माफी, फसल का वाजिब दाम, खेत मजदूरों की दिक्कत जैसी कई मांगे कर रहे हैं. वहीं किसानों के मुद्दे को लेकर कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रही है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी अपनी ज्यादातर रैलियों में किसानों की कर्ज माफी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधते नजर आते हैं.

Back to top button