छत्तीसगढ़राजनीतिराज्य

धान बेचने से किसानों ने किया इनकार

राजिम में प्रतिदिन धान खरीदी की सीमा में कटौती करने के खिलाफ खरीदी केंद्रों में किसानों ने किया प्रदर्शन

राजिम : प्रदेश की किसानों से समर्थन मूल्य में धान खरीदी का मामला गंभीर हो गया है। एक तरफ राज्य सरकार ने 15 दिन देरी से किसानों से धान खरीदी चालू किया तो वहीं अब राज्य सरकार किसानों से प्रतिदिन धान खरीद करने की मात्रा में कटौती कर टोकन में बोरों की संख्या को कम करने का तुगलकी फरमान जारी किया है।

इस वजह से किसानों को अपनी पारी में जितनी बोरी धान का टोकन बनाना था उतना नहीं बन पा रहा है और जितनी मात्रा का टोकन बना था उस मात्रा में 30 से 35 प्रतिशत की कटौती किया गया है। इससे समय पर अपना धान बेचने में किसानों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

धान उपार्जन केंद्रों में प्रतिदिन धान खरीदी की सीमा में कटौती से परेशान किसानों ने धान खरीदी केन्द्रों में विरोध प्रदर्शन कर धान बेचने से इनकार कर दिया। किसानों ने कहा है कि धान उपार्जन केंद्रों में पूर्व की भांति खरीदी किया जाये।

प्रदर्शन में अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के राज्य सचिव तेजराम विद्रोही, भूपेन्द्र कुमार साहू, लीलेश्वर साहू, अर्जुन सोनकर, मोहन सोनकर, खेलावन साहू, तुकाराम साहू, योगानंद साहू, राधेश्याम साहू, बिसाहू राम साहू, हीराराम साहू, भुनेश्वर साहू, रामभरोसा साहू, ललित यादव, अशोक साहू, परदेशीराम साहू, दानिराम, खोरबहरा ध्रुव, ललित कुमार साहू, नंदू ध्रुव, रेखुराम साहू सहित राजिम व बेलटुकरी धान उपार्जन क्षेत्र के ग्रामों से सैकड़ों किसान शामिल रहे।

Tags
Back to top button