मोदी के छत्तीसगढ़ प्रवास को काला दिवस के रूप में मनाएंगे किसान

गांव-गांव में काला झंडा फहराएंगे और किसान काला फीता लगाकर करेंगे काम

रायपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के छत्तीसगढ़ प्रवास का किसानों ने विरोध करने का फैसला लिया है। छत्तीसगढ़ प्रगतिशील किसान संगठन के बैनरतले प्रदेश के किसान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के छत्तीसगढ़ आगमन पर 14 जून को काला दिवस के रूप में मनाएंगे। इस दिन किसान मोदी के कार्यक्रम को तो किसी प्रकार से बाधित नहीं करेंगे, लेकिन गांव-गांव में काला झंडा फहराएंगे और किसान काला फीता लगाकर काम करेंगे। प्रदेश के किसान केंद्र और राज्य सरकार की वादाखिलाफी से नाराज है।

छत्तीसगढ़ प्रगतिशील किसान संगठन के संयोजक राजकुमार गुप्त ने कहा कि मोदी पूरे देश के प्रधानमंत्री हैं और किसानों की दुर्दशा से भली भांति अवगत हैं। उनसे पूरे देश के किसानों के लिए एक समान नीति और योजना बनाने की उम्मीद की जाती है, लेकिन वे उत्तर प्रदेश, कर्नाटक सहित चुनाव वाले राज्यों के किसानों के कर्ज माफी की बात तो करते हैं, लेकिन पूरे देश के किसानों के एकमुश्त कर्ज मुक्ति के लिए मौन धारण कर लेते हैं।

ये हैं संगठन की प्रमुख मांग : छत्तीसगढ़ प्रगतिशील किसान संगठन ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से आग्रह किया है कि किसानों की कर्ज मुक्ति, लाभकारी न्यूनतम समर्थन मूल्य, किसानों की न्यूनतम सुनिश्चित आमदनी और दूध-सब्जियों को भी एमएसपी के दायरे में लाने की घोषणा छत्तीसगढ़ की धरती से करें।

1
Back to top button