राष्ट्रीय

Farmers Tractor Rally: किसान हिंसा पर गृह मंत्री के घर बैठक जारी, उपद्रव को लेकर चर्चा

जपथ पर हुए परेड में जहां देश की शक्ति और संस्कृति की झलक देखने को मिली।

नई दिल्ली: देश आज जहां अपना 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। इस मौके पर राजपथ पर हुए परेड में जहां देश की शक्ति और संस्कृति की झलक देखने को मिली। वहीं इस परेड के खत्म होने के बाद कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली के अलग-अलग बॉर्डर्स पर पिछले 63 दिनों से धरना दे रहे किसान आज ट्रैक्टर मार्च निकाल रहे हैं।

किसानों ने सभी जगहों पर पुलिस के बैरिकेड्स तोड़कर दिल्ली की सीमाओं में दाखिल होना शुरू कर दिया। सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने दिल्ली पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड्स तोड़ दिए हैं और दिल्ली में दाखिल हो गए हैं। ऐसा की कुछ नजारा गुरुग्राम में फरीदाबाद में भी देखने को मिला। बेकाबू होते किसानों को रोकने के लिए पुलिस द्वार किसानों को काबू करने के लिए जहां संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर में आंसू गैस छोड़ी गई वहीं गाजीपुर में लाठीचार्ज किया गया।

ताजा अपडेट

– दिल्ली में किसान परैड के दौरान हुई हिंसा पर गृह मंत्री के घर बैठक जारी है। बैठक में दिल्ली एनसीआर में हुई हिंसा की जानकारी ली जा रही है।

– दिल्ली के नांगलोई में एक बार फिर किसान और पुलिसकर्मियों में तनाव की स्थिति बन गई है। प्रदर्शनकारियों की ओर से पथराव किया जा रहा है। काबू पाने को पुलिस कर्मी भी आंसू गैस के गोले और वाटर कैनन का प्रयोग किया गया।

– पुलिस के भारी इंतजामों के बीच किसान लाल पर पहुंच गए हैं। लाल किले पर बड़ी संख्या में किसान मौजूद हैं, जहां झंडा फहराया जा रहा है। किसान लाल किले के परिसर में मौजूद हैं।

– भारी हंगामे के बीच किसान नेता शिवकुमार कक्का ने कहा है कि आज जो हुआ वह बहुत दुखद है। किसान ट्रैक्टर रैली में कुछ असाजिक तत्व घुस आए हैं, जिससे यह सब हुआ। उन्होेंने

– किसानों के ट्रैक्टरों के चलते दिल्ली में भारी ट्रैफिक जाम लग गया है। आईटीओ के पास किसानों ने पुलिस के लगाए बैरिकड्स तोड़े हैं। प्रशासन ने किसानों का हंगामा देख कई मेट्रो स्टेशन के एंट्री गेट बंद कर दिए। हैं। हालात पर काबू पाने के लिए दिल्ली पुलिस की ओर से आंसू गैस के गोले और वाटर कैनन का भी प्रयोग किया गया है।

– किसान अक्षरधाम पार कर आगे बढ़े। नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर पांडव नगर के पास पुलिस बैरिकेडिंग को हटाया।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button