चने की फसल से गदगद हैं किसान – रामप्रताप सिंह

कोरिया:किसान रामप्रताप सिंह अपने पड़ती भूमि में चने की अच्छी फसल देखकर गदगद है। उन्होने कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि उनकी बंजर भूमि में चने की इतनी अच्छी फसल हो सकती है।

लेकिन कलेक्टर नरेंद्र कुमार दुग्गा के निर्देष पर कृशि विभाग द्वारा दी गई उन्नत प्रजाति के चने की बीज और रासायनिक उर्वरक तथा अधिकारियों के मार्गदर्शन से ही उनकी पड़ती भूमि पर चने की फसल लहलहा रही है।

कोरिया जिले के विकासखण्ड सोनहत के ग्राम सुन्दरपुर के किसान सिंह ने बताया कि वह एक लघु एवं सीमांत किसान है। वह अपने स्वयं की 5 एकड़ पड़ती भूमि को लेकर चिंतित रहते थे, कि कभी उनके भूमि में कोई फसल होगा भी कि नहीं।

लेकिन जब कृशि विभाग के अधिकारियों ने उनसे संपर्क किया तो वह अपने पड़ती भूमि में उत्पादन नहीं होने की जानकारी दी। कृशि विभाग के अधिकारियों ने उनकी पड़ती भूमि में उन्नत चने की फसल लेने की समझाईश दी।

उन्होने बताया कि कृशि विभाग द्वारा उन्नत प्रजाति के चने के बीज एवं रासायनिक उर्वरक निःषुल्क में प्रदान किया जाता है।

इस पर किसान सिंह की खुषी का ठिकाना नहीं रहा और वह तत्काल संबंधित वरिष्ठ कृशि विस्तार अधिकारी से 80 किलो उन्नत प्रजाति के चने का बीज निःशुल्क प्राप्त कर अपने खेतों में बोनी की। तत्पश्चात उन्होने कृशि विभाग द्वारा निःशुल्क दी गई रासायनिक खाद का भी उपयोग किया और उनके द्वारा पूर्व में निर्मित डबरी से सिंचाई किया।

जिसकी वजह से उनकी पड़ती भूमि पर चने की फसल लहलहा रही है और उन्हे अच्छी उत्पादन मिलने की संभावना है। चने की फसल को देखकर वे और उनका परिवार गदगद है।

new jindal advt tree advt
Back to top button