तांत्रिक के चक्कर में पिता ने दी बेटे की ​बलि, प्राइवेट पार्ट भी काटा

तांत्रिक के चक्कर में पिता ने दी बेटे की ​बलि, प्राइवेट पार्ट भी काटा

छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले में तांत्रिक के कहने पर पिता ने अपने पुत्र की बलि चढ़ा दी है. 25 नवंबर को मृतक रूपेश का क्षत विक्षत शव उसके घर से बरामद किया गया था. घटना के बाद पुलिस ने मामले की जांच शुरू की थी. पुलिस ने पिता और तांत्रिक को गिरफ्तार कर लिया गया है.

जानकारी के मुताबिक, बलौदाबाजार जिले के पलारी थाना क्षेत्र के अंतर्गत अमेरा गांव में तांत्रिक राजेश यादव (19) के कहने पर रामगोपाल पटेल (39) ने अपने पुत्र रूपेश (13) की बलि चढ़ा दी. पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तब उसके पिता पर शक हुआ. पुलिस ने पिता से कड़ाई से पूछताछ की है.

आरोपी पिता रामगोपाल ने बताया कि उसने भूत प्रेत से पीछा छुड़ाने के लिए अपने पुत्र की बलि दे दी. रामगोपाल ने पुलिस को बताया कि उसने अपने पुत्र की गला दबाकर हत्या कर दी. इसके बाद में उसके सिर में चोट पहुंचाई. इतना ही नहीं रामगोपाल ने बाद में बालक के प्राइवेट पार्ट काट दिया.

पुलिस ने बताया कि पूछताछ के दौरान पटेल ने कहा कि उसे महसूस हो रहा था कि उसके सिर पर भूत प्रेत का साया है. इसके बाद उसने तांत्रिक राजेश यादव से संपर्क किया. उसने बताया कि भूत प्रेत उसे प​रेशान कर रहे हैं और जब वह अपने पुत्र की बलि देगा तब वह इस समस्या से छुटकारा पा सकेगा.

इसके बाद तांत्रिक के कहने पर रामगोपाल पटेल ने अपने बेटे की बलि दे दी. पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने पटेल को पुत्र की बलि देने के आरोप में और बैगा को आपराधिक षड़यंत्र करने के आरोप में गिरफ्तार किया है. इस मामले की जांच की जा रही है. आरोपी हवालात में हैं.

बताते चलें कि इसी तरह महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिले में एक मासूम बच्चे की बलि दिए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया था. जहां एक भटकती आत्मा को शांत करने के लिए एक तांत्रिक ने दो लोगों के साथ मिलकर 6 साल के मासूम बच्चे को बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया था.

यह मामला उस्मानाबाद ज़िले की कलंब तहसील का था. वहां पिंपलगांव डोला में 26 जनवरी को 6 वर्षीय बच्चा कृष्णा रोज की तरह स्कूल से लौटकर घर आया था. इसके बाद वह अपने दादाजी के साथ अपनी मां को खेत में ढूंढने के लिए गया था. कृष्णा के गायब हो जाने पर उसकी तलाश शुरू की गई.

परिवार और गांव के लोगों ने रातभर उसे तलाश किया, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला. दूसरे दिन एक गेहूं के खेत में उसकी लाश मिली. उसके सिर और चेहरे पर जख्मों के निशान देखकर साफ पता चल रहा था कि उसे बेरहमी के साथ कत्ल किया गया था. पुलिस तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया था.

Back to top button