छत्तीसगढ़

बेटे की शरारत से परेशान पिता ने गला घोंटा

पुरुषोत्तम पुरोहित

अंबिकापुर. – माँ-बाप अपने बच्चों के हर ख्वाब को पूरा करने के लिए जाने जाते हैं लेकिन सीतापुर में एक ऐसा पिता भी नज़र आया है जिसने बेटे की सरारत से 21 साल के पुत्र  को रस्सी से गला घोंट कर मार डाला. बेटा का हत्यारा बाप अब सीखचों के पीछे है.

इस पिता ने सारी मानवीय संवेदनाओ को झकझोरकर कर रख दिया. किसी के मन में ऐसा विचार भी न आया होगा की जन्म देने वाले मां बाप अपने बेटे की हत्या कर सकते हैं। यह घटना  गांव में चर्चा का विषय बना है। 21 अक्टूबर को सुबह 9 बजे तमिलनाडु काम करने जा रहा था । अपने मां बिलासो से पैसे का मांग किया तब उसकी मां पैसा नही है बोली तब मृत मोबाइल  बेच कर जा रहा हूँ बोल घर से अपने मित्र के साथ पत्थलगांव से वापस आया अौर दोस्तों के साथ शराब पिया।

दोपहर 3 बजे बाप बेटे  के बीच काम को लेकर विवाद हो गया. यह पहले भी कई बार हुआ था।बाप भाइ , चाचा एवं मां आलू लगा रहे थे वहां जा के तगाड़ी को फावडा़ से फोड़ दिया अौर मां को मारा तब भाइ ने बिच बचाव किया तो उसे भी मारा .तब पिता ने दो चार हाथ मार घर भेज दिया। घर मे जा कर खाली गैस सिलेंडर को पटका अौर गाड़ी को तोड़ने लगा।मृतक विनोद थक कर रुम में जा के सो गया उसके सोने पर मृत के पिता, चाचा भाइ एवं मां ने पलास्टिक के रस्सी से गला घोट मार डाला तब पुरे परिवार आपस मे बात कर शव को छिपाने का काम किया जो करीब ११बजे रात को चादर में लपेट कर बगीचा के रासते पंडरी तालाब में फेक दिया ।तब बाप अौर बड़े भाइ मोटर सायकल को तालाब के पास फेका दुसरे दिन सुबह रिपोर्ट दर्ज कराने सीतापुर थाना पहुचें। आरोपित पिता चाचा भाइ एवं मां के उपर धारा

302,201,34 भादवि के तहत दिनांक  24 अक्टूबर 2017 को 5 बजे गिरफ्तार कर लिया गया है ।

प्रकरण के विवेचना मे एस डी ओ पी सीतापुर एश्वर्य चंन्द्राकर के निर्देशन में थाना प्रभारी मनीष ध्रुव की टीम सब इंस्पेक्टर केपी गुप्ता , सब इंस्पेक्टर राजेश चंड ,सहायक सब इंस्पेक्टर अनिल पाण्डे ,आरक्षक पंकज देवांगन,आरक्षक शिवलाल , के साथ गांव वाले भी सामिल हैं।

Summary
Review Date
Reviewed Item
मानवीय संवेदनाओ
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *