आईपीएल में कार्यवाही के डर से शहर के तमाम छोटे बड़े सटोरिये राज्य से बाहर

भरत मंगवानी:

बिलासपुर: हर साल आईपीएल में कार्यवाही के डर से क्रिकेट सट्टेबाज छत्तीसगढ़ छोड़कर गोवा और मुम्बई जैसी सुरक्षित जगहों से जहां पर उन तक कोई ना पहुँच सके वहाँ से क्रिकेट में दाव लगवाते है। क्रिकेट सटोरियो पर नाम मात्र की हल्की धाराएँ लगाई जाती है जिससे उनके हौसले बुलंद है।

कई नामचीन सटोरियो ने पुलिस कार्यवाही के डर से अपने इस दो नंबर के धंधे को पुलिस को आवेदन देकर बंद भी कर दिया है पर कुछ अभी भी इस काम को बेधड़क कर रहे है। पिछले वर्ष बिलासपुर के एक व्यापारी ने क्रिकेट आईपीएल में सट्टे में बड़ी रकम हारने के बाद सटोरियो से ही अत्यधिक ब्याज में रकम ले ली थी ।

जिसके बाद उसको अपना घर भी सटोरियो को बेचना पड़ गया था। ऐसे मामलों में पुलिस को गंभीरता लेकर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए। जिससे सटोरियो के हौसले पस्त हो जाये और युवा वर्ग का भविष्य बर्बाद होने से बचाया जा सके।

Back to top button