मुख्यमंत्री ने आम जनता से लिया शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन का फीडबैक, ग्रामीणों ने दी सकारात्मक प्रतिक्रिया

चाउर में गोटी तो नई मिलय, डूमरटोला के ग्रामीणों ने कहा नई साहब, बढिय़ा चाउर मिलथे, दुकानदार भी बढिय़ा हे

राजनांदगांव : चाउर में गोटी तो नई मिलय, पटवारी ले तो खुश हव नए बिजली कनेक्शन सबके घर में पहुँचे हे कि नई। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने मोहला ब्लॉक के डूमरटोला में आम जनता से बुनियादी सुविधाओं से जुड़ी हुई शासन की योजनाओं के क्रियान्वयन की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि मैं आपके पास इसलिए आया हूँ कि देख सकूँ कि शासन द्वारा दी जा रही सुविधाएँ आप तक पहुँच रही हैं या नहीं, अधिकारी-कर्मचारी पूरे समर्पण से आपको बुनियादी सुविधाएँ उपलब्ध कराने की दिशा में काम कर रहे हैं या नहीं। मुझे खुशी हुई कि आप लोगों ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है, आपकी सकारात्मक प्रतिक्रिया हमें बताती हैं कि आम आदमी की बेहतरी के मकसद को लेकर जो योजनाएँ बनाई गई हैं उनका लाभ उन तक पहुँच रहा है। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर खाद्य विभाग की प्रमुख रूप से समीक्षा की।

उन्होंने पूछा कि उज्ज्वला योजना का लाभ कितने हितग्राहियों को मिला है। इस पर आधे से अधिक ग्रामीणों ने हाथ खड़े किए। उन्होंने कहा कि कितने हितग्राही उज्ज्वला सिलेंडर चाहते हैं इस पर भी कई ग्रामीणों ने हाथ खड़े किए। उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना से समाज में होने वाले बदलावों को देखते हुए केंद्र शासन ने बड़ा निर्णय लिया है और अब अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अंत्योदय, तेंदूपत्ता संग्राहकों को भी उज्ज्वला योजना के अंतर्गत कनेक्शन मिलेगा। इस मौके पर मुख्य सचिव अजय सिंह, मुख्यमंत्री के संयुक्त सचिव मुकेश बंसल, कलेक्टर भीम सिंह और एसपी प्रशांत अग्रवाल एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे। साथ ही मोहला ब्लाक की जनपद अध्यक्ष कलिन कुँवर लाटिया एवं अन्य जनप्रतिनिधि भी उपस्थित थे।

चाउर में गोटी तो नइ मिलय-

खाद्य विभाग की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री ने पूछा कि राशन समय पर मिलता है कि नहीं और दुकानदार की सेवाओं से संतुष्ट है कि नहीं। इसका सकारात्मक जवाब आने पर उन्होंने कहा चाउर में गोटी-माटी तो नइ मिलय? ग्रामीणों ने कहा, साहब बढिय़ा चाउर मिलथे।

पटवारी के बारे में निगेटिव रिपोर्ट नहीं आना अच्छा –

गाँव वालों से उन्होंने पटवारी की सेवाओं के संबंध में भी पूछा। उन्होंने पूछा कि क्या राजस्व संबंधी कार्यों को कराने बार-बार पटवारी के चक्कर लगाने पड़ते हैं। इस पर ग्रामीणों ने कहा कि नहीं काम हो जाता है। अभी लोक सुराज में भी सारे आवेदन निराकृत हो गए। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि पटवारी के बारे में निगेटिव रिपोर्ट नहीं आना अच्छी बात है क्योंकि आम जनता को इनसे निरंतर कार्य पड़ते रहता है और ऐसे में इनकी अच्छी सेवा बहुत महत्वपूर्ण होती है।

आधी दर्जन से अधिक सेवाओं का ले चुके लाभ –

मुख्यमंत्री ने डूमरटोला में प्रधानमंत्री आवास का निरीक्षण भी किया। वे पीएम आवास के हितग्राही चुनेंद्र ठाकुर के घर गए। ठाकुर ने बताया कि उनके घर का भोजन उज्ज्वला योजना के अंतर्गत बने सिलेंडर में पकता है। मेरे घर में शासन द्वारा दिए हुए एलईडी बल्ब से रौशन है। मेरी पत्नी भी काम करती है और उसे श्रम विभाग से साइकिल मिली है जिससे उसे काम के लिए दूर तक जाना सहज हो जाता है। उसने बताया कि उसे शासन द्वारा सेलून किट भी मिला है जिससे उसकी आजीविका सहज हो गई है। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह इस पर काफी खुश हुए। मकान से बाहर निकलते हुए कलेक्टर भीम सिंह से मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनेंद्र ने कैसे अपनी जागरूकता से इतनी सारी योजनाओं का लाभ ले लिया और अपनी जिंदगी को बेहतर दिशा में लेकर जा रहा है। ऐसे हितग्राहियों से मिलकर गहरे संतोष का अनुभव होता है और बेहतर काम करते रहने का संकल्प दृढ़ होता जाता है।

मोहला, चौकी और मानपुर होंगे रौशन –

मुख्यमंत्री ने डूमरटोला के लोगों को बताया कि मोहला, चौकी और मानपुर में अब तक दल्ली राजहरा से बिजली आती थी, अब जल्द ही यहाँ 132 के.व्ही. का सबस्टेशन लग जाएगा, इससे पर्याप्त वोल्टेज पर अबाधित बिजली मिल पाएगी। उन्होंने कहा कि अप्रैल महीने में मोहला पूर्ण रूप से विद्युतीकृत हो जाएगा। उन्होंने सौभाग्य योजना के अंतर्गत पूर्ण रूप से विद्युतीकृत हो चुके गाँवों के सरपंचों की प्रशंसा भी की।

इस साल मिलेगा तीन गुना तेन्दूपत्ता बोनस –

मुख्यमंत्री ने तेन्दूपत्ता संग्राहकों को बताया कि इस बार राजनांदगांव में पिछले साल की तुलना में तीन गुना ज्यादा बोनस तेन्दूपत्ता संग्राहकों को मिलेगा। उन्होंने तेन्दूपत्ता संग्राहकों को इस अवसर पर चरण पादूका भी वितरित की।

सकारात्मक निराकरण पर जताई खुशी –

मुख्यमंत्री इस अवसर पर कृषि विभाग के उन पाँच हितग्राहियों से भी मिले जिन्हें विभागीय योजना के माध्यम से अनुदान में ट्रैक्टर प्राप्त हुए। इन हितग्राहियों ने लोक सुराज में आवेदन लगाए थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस तरह के सकारात्मक निराकरण से बहुत उत्साह का वातावरण बनता है। इस क्लस्टर में लोक सुराज के आवेदनों को बहुत अच्छी तरह से निराकृत किया गया है।

मुख्यमंत्री की घोषणाएँ –

– ग्राम पंचायत दनगढ़ में नये पंचायत भवन के लिए 14.15 लाख रुपए स्वीकृत
– कुलबोडी से कोदेवरा तक डब्ल्यूबीएम सड़क के लिए 10 लाख रुपए स्वीकृत
– सोमाटोला में खाद गोदाम निर्माण के लिए 10 लाख रुपए स्वीकृत
– मुनगाडीह मिडिल स्कूल में अहाता निर्माण के लिए 3 लाख रुपए स्वीकृत
– हलामीटोला में नलजल योजना के लिए 10 लाख रुपए स्वीकृत
– प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र दनगढ़ में एंबुलेंस क्रय के लिए 10 लाख स्वीकृत
– डूमरटोला प्राथमिक शाला में अहाता निर्माण के लिए 4 लाख रुपए स्वीकृत
– उतरवाही में नये प्राथमिक शाला भवन निर्माण की स्वीकृति

advt
Back to top button