मूंगफली खिलाने से बच्चों को नहीं होती एलर्जी की समस्या

अक्सर बच्चों में बड़े होने के बाद कई चीजों से एलर्जी की समस्यां हो जाती है। ज्यादातर पेरेंट्स इसे आम समस्यां समझ कर इग्नोर कर देते है लेकिन बच्चों के बड़े होने पर यह समस्यां ओर भी बढ़ जाती है।

अक्सर बच्चों में बड़े होने के बाद कई चीजों से एलर्जी की समस्यां हो जाती है। ज्यादातर पेरेंट्स इसे आम समस्यां समझ कर इग्नोर कर देते है लेकिन बच्चों के बड़े होने पर यह समस्यां ओर भी बढ़ जाती है।

हाल ही में हुई एक नई स्टडी के अनुसार बच्चों को छोटी उमर में मूंगफली खिलाने से उन्हें बड़े होने पर एलर्जी का सामना नहीं करना पड़ता।

अमेरिका में एक शोध द्धारा इस बात को सिद्ध किया गया है कि अगर बच्चों को चार साल की उम्र से मूंगफली का सेवन कराया जाए तो उन्हें बाद में एलर्जी की समस्यां नहीं होती है।

मूंगफली बच्चों में एलर्जी की समस्यां को 80 प्रतिशत कम कर देती है। इस नए शोध के अनुसार बच्चों को चार साल की उम्र में ही मूंगफली का सेवन शुरु करवा देना चाहिए।

हालाकिं पेरेंट्स बच्चों को मूंगफली खिलाने को लेकर सावधान रहते है लेकिन उन्हें पूरा दिन मूंगफली खिलाने की बजाए आप टाइम टू टाइम मूंगफली या उससे बनी चीजें खिला सकती है।

बच्चों को एलर्जी और एक्ज़िमा से बचाने के लिए मेडिकल की निगरानी में मूंगफली या उससे बनी खाद्य सामग्री जैसे पीनट बटर देना चाहिए। एक्ज़िमा से ग्रस्त बच्चों को मूंगफली खिलाने से उन्हें इस बीमारी से मुक्त किया जा सकता है।

advt
Back to top button