रामगढ़ स्थित टर्मिनल बैलिस्टिक अनुसंधान प्रयोगशाला क्षेत्र में लगी भीषण आग

महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी शहर में पावरलूम फैक्टरी जलकर खाक

नई दिल्ली:हरियाणा के पंचकूला में रामगढ़ स्थित टर्मिनल बैलिस्टिक अनुसंधान प्रयोगशाला (TBRL) क्षेत्र के मौजूद सरकंडों और झाड़ियों में आग लगी. आग लगने की सूचना मिलते ही TBRL की अग्निशमन गाड़ियां और पंचकूला दमकल विभाग की गाड़ियां भी मौके पर पहुंच गईं. कड़ी मशक्कत के बाद आग पर पाया गया. TBRL कॉम्प्लेक्स अब पूरी तरह से सुरक्षित है. इससे पहले भी इस इलाके के सरकंडों और झाड़ियों में आग लग चुकी है.

भीषण आग लगने से पावरलूम फैक्टरी जलकर खाक

वहीं, महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी शहर में शनिवार तड़के भीषण आग लगने से एक पावरलूम फैक्टरी जलकर खाक हो गई. एक अधिकारी ने इस बारे में बताया. उन्होंने बताया कि हादसे में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. ठाणे नगर निगम के क्षेत्रीय आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ (RDMC) के प्रमुख संतोष कदम ने बताया कि धमनकर नाका इलाके के सोनीबाई परिसर में स्थित फैक्टरी में तड़के करीब तीन बजे आग लगी.

उन्होंने बताया कि सूचना मिलने पर भिवंडी निजामपुर सिटी नगर निगम की दो दमकल गाड़ियां मौके पर पहुंचीं. कदम ने बताया कि हादसे में कोई हताहत नहीं हुआ है और आग बुझाने का काम जारी है. उन्होंने बताया कि आग लगने के कारणों के बारे में अभी पता नहीं चल पाया है. शुक्रवार को शहर के नयीगांव रोड पर स्थित एक अन्य पावरलूम फैक्टरी भी आग लगने से पूरी तरह खाक हो गई थी. भिवंडी पावरलूम उद्योग का बड़ा केंद्र है.

वृन्दावन में कपड़े के तीन मंजिला शो रूम में आग

वहीं, उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद के वृन्दावन शहर में गुरुवार सुबह कपड़े के एक तीन मंजिला शो रूम में आग लगने से करीब ढाई करोड़ रुपए कीमत का माल जल गया. आग की चपेट में आकर वहां खड़ीं दो बाइक भी पूरी तरह जल गईं. मुख्य अग्निशमन अधिकारी प्रमोद कुमार शर्मा ने बताया, वृन्दावन के अनाज मण्डी स्थित कपड़े के तीन मंजिला शो रूम में आग लगने की सूचना मिलते ही दो दमकल गाड़ियां मौके पर रवाना कर दी गईं. भीषण आग पर काबू पाने में कई घंटे का समय लगा. अनुमान है कि करीब ढाई करोड़ रुपए कीमत का माल जलकर खाक हो गया.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button