वर्ल्डकप के लिए तैयार टीम इंडिया, गोलकीपर ने बनाया मास्टर प्लान

भारत की फुटबॉल टीम के गोलकीपर धीरज सिंह ने मंगलवार को कहा कि फीफा अंडर-17 विश्व कप में खेलना एक बड़ी चुनौती है, जिसके लिए वह पूरी तरह से तैयार हैं। भारत की मेजबानी में अंडर-17 विश्व कप की शुरुआत शुक्रवार से होगी, जिसका फाइनल 28 अक्टूबर को खेला जाएगा।

धीरत ने कहा, “यह चुनौती है जिसके लिए मैं तैयार हूं। हम अपनी विपक्षी टीम का सम्मान करते हैं, लेकिन एक गोलकीपर होने के नाते यह मेरा काम है कि मैं उनके सामने कड़ी चनौती बनकर खड़ा रहूं और मैं उनके सामने गोल करने में अभी तक आने वाली सबसे कठिन चुनौती बनना चाहूंगा।”

अपनी गोलकीपिंग के बारे में धीरज ने कहा, “मैं आक्रामक गोलकीपिंग और शांत गोलकीपिंग में संतुलन बनाने की कोशिश करूंगा। आपको समय के हिसाब से तय करना होता है कि किस तरह की गोलकीपिंग करनी है।”

उन्होंने कहा, “कई बार आक्रामक गोलकीपिंग आपको मुश्किल में डाल सकती है और इससे आप गोल भी खा सकते हैं, वहीं शांत रहते हुए की जाने वाली गोलकीपिंग में इसका उलटा हो सकता है। गोलकीपर के लिए दोनों तरीके अहम हैं। गोलकीपर के ऊपर हर मैच में अच्छा प्रदर्शन करने का दबाव होता है।”

उन्होंने कहा, “गोलकीपर का काम हर पल मैच में बने रहना होता है। जरा सी एकाग्रता में कमी के कारण आप आसानी से गोल खा सकते हैं। गोलकीपर अंतिम रुकावट होती है, हर मैच में आपके ऊपर दबाव होता है और इसी कारण यह काम को और मुश्किल बना देता है।” भारत एशिया की 18वीं टीम है जो अंडर-17 विश्व कप में हिस्सा लेगी।

बता दें कि भारत को ग्रुप-ए में रखा गया है, जिसमें घाना, अमेरिका और कोलंबिया जैसी मेजबूत टीमें हैं। मेजबान टीम अपना पहला मैच शुक्रवार को ही जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में अमेरिका के खिलाफ खेलेगी।

1
Back to top button