आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई ‘खत्म होने में अभी बहुत वक्त लगेगा’: प्रधानमंत्री

सिंगापुर. सिंगापुर के प्रधानमंत्री ली सियन लूंग ने शनिवार को आगाह किया कि अमेरिका में 9/11 हमले के दो दशक बाद भी आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई ”खत्म होने में अभी बहुत वक्त लगेगा” और दूरदराज के स्थानों पर मौजूद आतंकवादी समूह सिंगापुर के लिए गंभीर खतरा हैं। लूंग ने अमेरिका में अलकायदा के हमलों के 20 वर्ष पूरे होने पर प्रकाशित एक समीक्षा में कहा, ”इन दूरदराज के स्थानों में मौजूद आतंकवादी समूह सिंगापुर के लिए गंभीर खतरा हैं। चरमपंथी आतंकवाद एक जगह से दूसरी जगह फैलता है। डिजीटल मीडिया ने इस जहर को बढ़ा दिया है।”

उन्होंने कहा, ”अलकायदा की जगह इस्लामिक स्टेट ने ले ली है जो क्षेत्रीय रूप से खदेड़ा जा चुका है लेकिन ऑनलाइन समेत अन्य माध्यमों से काम कर रहा है।” उन्होंने बताया कि कैसे इस साल सिंगापुर में प्राधिकारियों ने दो कट्टरपंथी युवाओं को गिरफ्तार किया जो अकेले हमले करने की तैयारी कर रहे थे।

उन्होंने कहा, ”अब अमेरिका के अफगानिस्तान से जाने पर हमें इस पर करीबी नजर रखनी होगी कि वहां स्थिति कैसे बदलती है, क्या अफगानिस्तान में स्थित समूह फिर से हमारी सुरक्षा के लिए खतरा बनेंगे और आतंकवाद के नए मोर्चे कहां पैदा हो सकते हैं।”

सिंगापुर के प्रधानमंत्री ने कहा कि सभी समूहों और धर्मों के नेताओं को आतंकवादी हमलों की निंदा करनी चाहिए और एक-दूसरे के साथ एकजुटता से खड़े रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि सिंगापुर अब भी आतंकवादियों के निशाने पर है। एक से ज्यादा बार आतंकवादियों ने सिंगापुर पर हमले की योजनाएं बनायी हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button