राष्ट्रीय रिकार्ड सुधारते हुए फाइनल में खाड़े

फाइनल आज शाम को खेला जाएगा।

जकार्ताः अट्ठारहवें एशियाई खेल में भारत के वीरधवल खाड़े ने पुरूषों की 50 मीटर फ्रीस्टाइल स्पर्धा के फाइनल में अपना राष्ट्रीय रिकार्ड सुधारते हुए जगह बनाकर एशियाई खेलों में दूसरे पदक की ओर कदम बढा दिए।

खाड़े ने हीट्स में 22.43 सेकंड का समय निकाला जो तीसरा सबसे तेज समय था। ग्वांग्झू में 2010 एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने वाले खाड़े को जापान के शुनिची नकाओ से कड़ी चुनौती मिली लेकिन आठ तैराकों की पांचवीं हीट में वह सबसे तेज रहे।

उनका राष्ट्रीय रिकाॅर्ड 22.52 सेकंड का था जो उन्होंने जापान में 2009 में एशियाई आयुवर्ग तैराकी चैम्पियनशिप में बनाया था। खाड़े चीन के हेक्सिन यू (22.21) और हांगकांग के कीनिथ किंग हिम (22.38) के बाद तीसरे स्थान पर रहे। अंशुल कोठारी फाइनल में जगह नहीं बना सके जो 23.83 सेकंड का समय निकालकर 28वें स्थान पर रहे।

खाड़े ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि मैं पदक जीत सकता हूं। मैने पिछले डेढ साल में काफी तैयारी की है। यह फर्राटा है तो फाइनल में क्या होगा, पता नहीं लेकिन मैं जीत सकता हूं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पहले दो तैराक मुझसे ज्यादा फिट हैं लेकिन मैं मानसिक रूप से उनसे ज्यादा मजबूत हूं और मेरे पास अनुभव है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं दस साल बाद इतने बड़े टूर्नामेंट में भाग ले रहा हूं। राष्ट्रमंडल खेलों में मैं अपनी क्षमता के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सका था ।’’

फाइनल आज शाम को खेला जाएगा। खाड़े ने नौकरी के कारण तैराकी से चार साल का ब्रेक ले लिया था। वह महाराष्ट्र सरकार के लिये तहसीलदार की नौकरी करते हैं।

Back to top button