पूर्व मंत्री समेत दस नामजद और सैकड़ों अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

पुलिस ने एक नामजद आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया

बलिया:बलिया शहर कोतवाली में अश्विनी तिवारी की शिकायत पर पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी व उनके पुत्र एवं जिला पंचायत के नवनिर्वाचित अध्यक्ष आनन्द चौधरी सहित दस लोगों के खिलाफ नामजद व सैकड़ों अज्ञात के विरुद्ध धमकी देने, अपशब्द कहने, गलत तरीके से किसी को प्रतिबंधित करने, उपद्रव के दोष समेत कई सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने एक नामजद आरोपी को गिरफ्तार भी कर लिया है।

उल्लेखनीय है कि सोशल मीडिया पर आज एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें कथित तौर पर सपा कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए खेलकूद राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी के प्रति आपत्तिजनक नारेबाजी करते दिखाई दे रहे हैं।

जिला पंचायत अध्यक्ष का शनिवार को चुनाव हुआ जिसमें सपा के आनन्द चौधरी विजयी हुए। यह वीडियो सपा की जीत के बाद का बताया जा रहा है। वीडियो सार्वजनिक होने के बाद भाजपा कार्यकर्ता आक्रोशित हो गए।

भाजपा के जिलाध्यक्ष जय प्रकाश साहू की अगुवाई में भाजपा के आक्रोशित कार्यकर्ता पुलिस अधीक्षक डॉ विपिन ताडा से उनके आवास पर मिले। भाजपा जिलाध्यक्ष जय प्रकाश साहू ने बताया कि जीत के जश्न में सपा के कार्यकर्ताओं ने राज्‍य मंत्री उपेंद्र तिवारी की मां, बहन व बेटी के विरुद्ध अपशब्द कहे जो अत्यंत निंदनीय कार्य है।

दरअसल सोशल मीडिया पर दो दिन पहले एक और वीडियो सार्वजनिक हुआ था जिसमें खेलकूद राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उपेंद्र तिवारी अंबिका चौधरी के विरुद्ध कथित तौर पर आपत्तिजनक बयान देते देखे जा रहे हैं। इस मौके पर राज्य मंत्री आनन्द स्वरूप शुक्ल, भाजपा विधायक सुरेंद्र सिंह, संजय यादव व धनंजय कन्नौजिया तथा जिलाध्यक्ष जय प्रकाश साहू भी मौजूद रहे दिखाई दे रहे हैं।

वीडियो सोशल मीडिया पर सार्वजनिक होने के बाद उपेंद्र तिवारी ने रविवार को पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी पर निशाना साधा। तिवारी ने ‘पीटीआई-भाषा’ से बातचीत में कहा कि वीडियो में उनकी मां व बहन को अपशब्द कहे जा रहे हैं।

उन्होंने कहा, ”अंबिका चौधरी अपने बेटे के जरिये सपा में फिर से शामिल होने की जुगत में हैं। अपशब्दों से भरी नारेबाजी के जरिये वह सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का सम्मान बढ़ा रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि सूबे में 75 जिलों में जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव हुआ है, लेकिन 74 जिलों में इस तरह की स्थिति सामने नहीं आयी।

अंबिका चौधरी ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि ”राज्य मंत्री तिवारी ने सार्वजनिक रूप से उनकी मां, बहन व पिता के प्रति अशिष्ट शब्द कहे और मैंने इस पर कुछ नहीं कहा। कल चुनाव के बाद कलेक्ट्रेट से सीधे घर आ गया। मेरा बेटा आनन्द चौधरी भी पुलिस की सुरक्षा में घर पहुंचा और मेरी तरफ से कोई विजय जुलूस नहीं निकाला गया।”

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button