छत्तीसगढ़

FIR तीन-तीन मगर अपराधी बिंदास ऐसा क्यों

ब्यूरो चीफ : विपुल मिश्रा

बिलासपुर/- धोखाधड़ी के मामले फरार आरोपी की गिरफ्तारी के लिए प्रार्थी ने पुलिस महानिरीक्षक व पुलिसअधीक्षक को ज्ञापन सौप उचित कार्यवाही करने की अपील की है,प्रार्थी ने उक्त फरार आरोपी के विरुद्ध इनाम की घोषणा करने कि भी मांग की है…

मामले में मिली जानकारी के मुताबिक तारबाहर क्षेत्र में रहने वाले राजेश सेठ पिता स्व.कैलाश सेठ उम्र 50 वर्ष निवासी विनायका होम्स मेन रोड तारबाहर,बिलासपुर एवं उनकी पत्नी रजनी सेठ पर आरोप है कि दोनों ने मिलकर खसरा न 903 की गावठान मद की शासकीय भूमि पर नगर निगम से नक्शा पास कराये बिना उक्त भूमि पर अवैध निर्माण कर 4 मंजिला बिल्डिंग में लगभग 22 फ्लैट ओर 20 दुकानों का काम्प्लेक्स बनाकर जिसे तकरीबन 10 करोड़ में फर्जी दस्तावेजो के आधार पर बेचकर विभिन्न लोगो के साथ ठगी किया है,जिनके विरुद्ध थाना अजाक एवं थाना तारबाहर में कुल 3 FIR दर्ज हुई है,

प्रार्थी ने बताया कि इन दोनों ठगी के आरोपी पति-पत्नी ने कई लोगो सहित बैंक ऑफ बड़ौदा एवं सेंट बैंक होंम फायनेंस लिमिटेड को भी करोड़ो का चूना लगाया है,उनका आरोप है कि फरार आरोपी दंपत्ति शहर के एक आर्किटेक्ट मणि शंकर सोनी के साथ आपराधिक साजिश रचकर,फर्जी,कूटरचित नक्शा बनाकर,उक्त नक्शे पर नगर निगम अधिकारियों के हु-ब-हु सील हस्ताक्षर कर उक्त नक्शे के आधार पर न केवल विनायका हाइट्स नामक बिल्डिंग,जो तारबाहर अंडर ब्रिज के पास स्थित है,उक्त बिल्डिंग में लोगो को फर्जी,बनावटी,कूटरचित नक्शे के आधार पर फ्लैट्स,कार्यालय,दुकाने बेचकर करोड़ो रुपये की ठगी किया है.

प्रार्थी शीतला प्रसाद त्रिपाठी जो की आयकर विभाग से रिटायरमेंट लेकर अपने जीवन की समस्त जमापूंजी से उक्त बिल्डिंग में राजेश सेठ / रजनी सेठ से एक फ्लैट खरीदा था,लेकिन त्रिपाठी जी को उक्त फ्लेट की पूरी कीमत अदा करने के बाद भी आज तक न तो फ्लैट मिला और न ही पैसे वापिस उल्टे बैंक के कर्जदार तो हो ही गये,क्योकि फिलहाल तो बैंक ऑफ बड़ौदा भी उक्त बिल्डिंग पर अपना दावा कर रहा है,क्योकि राजेश सेठ,रजनी सेठ ने उक्त बिल्डिंग में फ्लैट्स कार्यालय बेचने के पूर्व उक्त भूमि को बैंक ऑफ बड़ौदा में गिरवी रखकर लगभग 2 करोड़ कर्ज लोन अगेंस्ट प्रोपर्टी ले रखा है,वह भी गावठान मद की शासकीय भूमि पर जिसमे नगर निगम से बिना अनुमति बिना नक्शा पास कराये अवैध निर्माण सहित पूर्व से बैंक ऑफ बड़ौदा में गिरवी सम्पति को बेचकर ठगी किया है,

प्रार्थी ने बताया कि उक्त दोनों ठगी के आरोपित पति-पत्नी पुलिस रिकार्ड अनुसार अब भी फरार है,उनकी गिरफ्तारी हेतु राजेश सेठ /रजनी सेठ से हुये ठगी के शिकार शीतला प्रसाद त्रिपाठी ने लिखित आवेदन देकर रेंज IG दीपांशु काबरा एवं पुलिस कप्तान प्रशांत अग्रवाल से उनकी गिरफ्तारी पर एक हजार रु का इनाम घोषित करने की गुहार लगायी है…

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button