पुलवामा हमले में पहला खुलासा: प्रयोग में लाई गई कार 2010-11 मॉडल की, जांच में मिला सुराग

पुलवामा हमले की जांच कर रही एजेंसियों को आतंकियों द्वारा प्रयोग में लाई गई कार को लेकर जो अहम सुराग हाथ लगे हैं उसे सत्यापित किया जा रहा है

श्रीनगर।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा हमले की जांच कर रही एजेंसियों को अहम सबूत मिला है। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा घटनास्थल से कार के हिस्सों की मारूती के अधिकारियों द्वारा अध्ययन किया गया।

कार 2010-11 मॉडल मारूती ईको कार थी जिसे कुछ समय पहले फिर से पेंट कराया गया था. पुलवामा हमले की जांच कर रही एजेंसियों को आतंकियों द्वारा प्रयोग में लाई गई कार को लेकर जो अहम सुराग हाथ लगे हैं उसे सत्यापित किया जा रहा है.

जांच दलों को घटनास्थल से एक जरकन और नंबर अंकित धातु का टुकड़ा मिला है. बताया जा रहा है कि यह जरकन 20-25 लीटर का था जिसमें 30 किलोग्राम आरडीएक्स पैक कर आईईडी बम बनाकर कार में रखा गया था.

प्रत्यदर्शियों के मुताबिक यह कार लाल रंग की थी. इसके अलावा कार के शॉकर का हिस्सा भी मिला है. जिससे पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि कार कब की बनी है और इसे बेचा कब गया है.

बता दें कि NIA अधिकारियों के एक दल ने शुक्रवार को घटनास्थल पहुंचकर कुछ सैंपल इकट्ठा किए थे. अधिकारियों के मुताबिक यह ब्लास्ट इतना बड़ा था कि इसके अवशेष 150-200 मीटर दूर रिहायशी इलाकों तक फैल गए थे.

Back to top button